Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 07:01 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

केदारनाथ धाम से पहले जवानों को मिठाई खिलाने पहुंचे पीएम

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 7 2018 1:09PM
केदारनाथ धाम से पहले जवानों को मिठाई खिलाने पहुंचे पीएम
अनिल
देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले निर्धारित समय से पूर्व देहरादून पहुंच गए और इसके बाद उन्होंने अचानक कार्यक्रम में बदलाव करते हुए पीएम मोदी भारत चीन सीमा पर स्थित हर्षिल आर्मी कैंप पहुंच गए। यहा उहोंने सेना के जवानों को मिठाई खिलाकर दीपावली की बधाई दी। इसके बाद पीएण केदारनाथ धाम पहुंचे और बाबा के दर्शन के साथ ही निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। सैन्य कैंप जाने का कार्यक्रम गोपनीय रखा गया और जिला प्रशासन तक को इसकी खबर नहीं लगी।
 
बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दिवसीय उत्तराखंड दौरे के तहत सुबह करीब पौने सात बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे। जौलीग्रांट एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7:10 पर सेना के 4 एम आई -17 हेलीकॉप्टर की सुरक्षा घेरे में एयरपोर्ट से उत्तरकाशी जिले में भारत चीन सीमा पर स्थित हर्षिल के लिए रवाना हुए। हर्षिल में उन्होंने गंगा किनारे छोटे शिव मंदिर में प्रधानमंत्री ने पूजा अर्चना की और गंगा को प्रणाम किया। इसके बाद पीएम मोदी महार रेजिमेंट के कैंप में पहुंचे, जहां आर्मी जवानों ने पीएम का भव्य स्वागत किया। कैंप में सेना के जवानों को पीएम मोदी ने दीपावली की दी बधाई दी और मिठाई खिलाई। इस दौरान पीए मोदी आइटीबीपी के अधिकारियों व जवानों को भी मिले तथा दीपावली की बधाई दी। आर्मी सभागार में पीएम मोदी ने जवानों से संवाद किया तथा उन साथ फोटो खिंचवाई। इश दौरान उन्होंने चीन सीमा से जुड़े महत्वपूर्ण पहलुओं पर सैन्य अधिकारियों से जानकारी ली।
पीएम से मिलने के लिए हर्षिल और बगोरी के ग्रामीण भी पहुंचे। बगोरी के प्रधान भवान सिंह के नेतृत्व में ग्रामीणो ने भेड़ की ऊन से बनाई गई शाल भेंट की और गांव की महिलाओं ने पीएम को फूल भेंट किए। इश दौरान ग्रामीणों ने पीएम से कुछ समस्याएं भी गिनाईं। पीएम ने ग्रामीणों से कहा कि समस्याओं का जल्द समाधान किया जाएगा। इसके बाद पीएम मोदी 9.15 बजे हर्षिल से केदारनाथ के लिए रवाना हुए। सैन्य कैंप जाने के इस कार्यक्रम को प्रशासन को से दूर रखा गया था। जिलाधिकारी को भी इसकी जानकारी नहीं दी गई थी। सुरक्षा के लिहाज से पीएम मोदी का कार्यक्रम बेहद सीक्रेट रखा गया था।
 
image