Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 22:08 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

आठ साल की छोटी उम्र से ही कबड्डी के मैदान में ताल ठोंकने वाले व प्रो कबड्डी लीग के पांचवें संस्करण में पुनेरी पल्टन टीम के सदस्य संदीप नारवाल का सपना है कि वह ओलंपिक में देश के लिए खेलें और स्वर्ण पदक लायें। हालाँकि कबड्डी को अभी भी ओलंपिक में शामिल नही किया गया है।

By HindusthanSamachar | Publish Date: Sep 23 2017 4:53PM
ओलंपिक में कबड्डी खिलाड़ी के रूप में खेलना मेरा सपना : संदीप नारवाल

 नई दिल्ली, 23 सितम्बर (हि.स.) । आठ साल की छोटी उम्र से ही कबड्डी के मैदान में ताल ठोंकने वाले व प्रो कबड्डी लीग के पांचवें संस्करण में पुनेरी पल्टन टीम के सदस्य संदीप नारवाल का सपना है कि वह ओलंपिक में देश के लिए खेलें और स्वर्ण पदक लायें। हालाँकि कबड्डी को अभी भी ओलंपिक में शामिल नही किया गया है। ओलंपिक में शामिल होने के लिए किसी भी खेल को दुनिया भर में फैलना होता है और 4 महादेशों के 75 देशों में उस खेल का खेला जाना जरुरी है। लेकिन जिस तरह से कबड्डी का खेल लोकप्रिय होता जा रहा है उस हिसाब से इसके ओलंपिक में शामिल होने की उम्मीद की जा सकती है।

हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में संदीप ने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय कबड्डी फैडरेशन के अध्यक्ष जर्नादन सिंह गहलोत प्रयासरत हैं कि कबड्डी को ओलंपिक में शामिल किया जाय। उन्होंने कहा कि मेरा भी सपना है कि एक दिन ओलंपिक में मैं कबड्डी खिलाड़ी के रूप में रूप में देश के लिए खेलूं और स्वर्ण पदक जीतूं।  

प्रो कबड्डी लीग के पांचवें संस्करण के बड़े प्रारूप पर संदीप ने कहा कि लीग बड़ा हो या छोटा इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। हमारा काम खेलना है और हम खेलते हैं। हां बड़े प्रारूप में हमें लगातार खेलना होता है, इसलिए जरूरी है कि फिटनेस पर ज्यादा ध्यान दिया जाय़।

प्रो कबड्डी लीग से खिलाड़ियों के जीवन में आये परिवर्तन के बारे में पूछने पर संदीप ने कहा कि इस लीग के आने से खिलाड़ियों के जीवन में ज्यादा बदलाव आया। पहले कोई हमें जानता नहीं था और अब हम काफी लोकप्रिय हो चुके हैं। जैसे क्रिकेट के खिलाड़ी फेमस हैं। वैसे ही प्रो कबड्डी में खेलने से खिलाड़ी फेमस हो रहे हैं। इससे पहले, मेरे गांव में भी लोगों को कबड्डी के बारे में पता नहीं था। पर अब प्रो कबड्डी  के वजह से सब संदीप नरवाल और अन्य खिलाडियों को जानते है। यहाँ तक की मेरे पडोसी मुझसे प्रो कबड्डी के बारे में पूछ रहे थे।

कई लोग प्रो कबड्डी  के वजह से कबड्डी में रूचि लेने लगे है। पहले कोई नहीं जानता था हमे, अब लोग हमे जानते है और हमारे साथ फ़ोटो खिंचवाते है।

लीग में मजबूत प्रतिद्वंद्वी टीम के बारे में पूछने पर संदीप ने कहा कि लीग में शामिल टीमों में कोई अंतर नहीं है। सभी टीमें अच्छी हैं। हालांकि मैं अपनी टीम को ही ज्यादा मजबूत मानता हूं । क्योंकि हमारा डिफेंस और आक्रमण दोनों मजबूत है। 

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image