Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 08:03 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अमित शाह ने ओडिशा में बीजद और कांग्रेस पर साधा निशाना

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 1 2019 9:56PM
अमित शाह ने ओडिशा में बीजद और कांग्रेस पर साधा निशाना
भुवनेश्वर, 01 अप्रैल (हि.स.)। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को ओडिशा के गजपति और नबरंगपुर में आयोजित जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने ओडिशा में विकास को अवरुद्ध करने वाले कांग्रेस और बीजद पर जमकर हमला बोला। अमित शाह ने कहा कि समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट में अदालत के फैसले से सिद्ध हो गया कि कांग्रेस पार्टी ने हिंदू समुदाय और भारतवर्ष को बदनाम करने की साजिश रची। हिंदू तो देश का निर्माण करते हैं, हिंदू कभी आतंकी नहीं हो सकते। देश की जनता इस बार के चुनाव में कांग्रेस के पाप का करारा जवाब देगी। उत्कल गौरव मधुसूदन दास जी, उत्कल मणि गोपाल बंधु जी, मालती देवी जी, अन्नपूर्णा जी, गंगाधर मेहर जैसे ओडिशा के महान मनीषियों को नमन करते करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि मैं आज के दिन ओडिशा आया हूं क्योंकि आज ही के दिन उत्कल राज्य ओडिशा का गठन हुआ था। उन्होंने कहा कि यह ओडिशावासियों के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि 19 साल होिन राज्य के मुख्यमंत्री नवीन बाबू उड़िया भाषा नहीं बोल सकते, वे 19 साल में उड़िया भाषा सीख नहीं सके। उन्होंने राज्य की जनता से अपील करते हुए कहा कि आप इस बार एक ऐसा मुख्यमंत्री चुनिए जो आपकी भाषा में आपसे बात कर सके, आपके दुःख-दर्द को समझ सके। आज समस्त उड़ियावासी यह संकल्प लें कि अब ओडिशा में अंग्रेजी बोलने वाले मुख्यमंत्री नहीं चलेंगे। शाह ने कहा कि ओडिशा को एक युवा एवं नए मुख्यमंत्री की जरूरत है। ओडिशा की जनता को नवीन पटनायक को सत्ता से उखाड़ फेंकने और बतौर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का दूसरा कार्यकाल सुनिश्चित करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बीजद के 19 वर्षों के शासनकाल में भ्रष्टाचार के सिवा कोई और काम नहीं हुआ। ओडिशा की बीजद सरकार किसी भी कार्य के लिए कमीशन लेती है। उन्होंने कहा कि गरीबी को कैसे दूर किया जाएगा, इसके लिए नवीन बाबू को ट्यूशन लेनी चाहिए लेकिन अब इसका समय भी चला गया। उन्होंने कहा कि नवीन पटनायक ने जिस प्रकार से पश्चिम और मध्य ओडिशा के साथ सौतेला व्यवहार किया है, इस बार उसका हिसाब करने का वक्त आ गया है। ओडिशा की बीजद सरकार बताए कि राज्य से युवाओं का पलायन क्यों हो रहा है? राज्य की जनता ओडिशा में एक मौक़ा भारतीय जनता पार्टी को दें, हम एक ऐसे ओडिशा प्रदेश कीरचना करेंगे कि यहां के युवाओं को प्रदेश में ही रोजगार मिलेगा, उन्हें नौकरी के लिए पलायन नहीं करना पड़ेगा। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आने वाला चुनाव देश और ओडिशा दोनों का भाग्य तय करने वाला है। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक और असम से लेकर गुजरात तक एक ही आवाज आती है मोदी-मोदी। भाषाएं बदलती हैं, प्रदेश बदलता है लेकिन मोदी जी का नाम नहीं बदलता क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी में ही देश की आशा, आकांक्षा और देश का विकास निहित है। उन्होंने कहा कि इस बार ओडिशा की जनता को दो महत्वपूर्ण फैसले लेने हैं- पहला तो राज्य में विकास को अवरुद्ध करने वाली बीजद सरकार को उखाड़ फेंकना है और दूसरा यह कि राज्य की ज्यादा से ज्यादा सीटों पर कमल खिलाकर केंद्र में ‘फिर एक बार, मोदी सरकार'' बनानी है। अमित शाह ने कहा कि ओडिशा में आज इतना भ्रष्टाचार है कि सरकार के चहेते ऑफिसर, कलेक्टर, एसपी प्रदेश की जनता से उगाही करते हैं। इतना ही नहीं महाप्रभु जगन्नाथ का रत्न भंडार भी सलामत नहीं रहा। यह केवल एक रत्न भंडार नहीं है बल्कि राज्य की लक्ष्मी है, समृद्धि है। उन्होंने कहा कि राज्य में जनजातीय समुदाय की विरासत के संरक्षण के लिए भी इन्होंने कोई कार्य नहीं किया। आदिवासी वन समुदाय के लोगों को कोई कागजात नहीं दिए गए। कई योजनाएं अधर में लटकी हुई हैं, सिंचाई की कई परियोजनाएं अधूरी पड़ी हुई है। आज भी ओडिशा में लगभग 12 हजार गांवों में पक्की सड़कें नहीं हैं। प्रदेश के लगभग आठ लाख से अधिक बच्चे कुपोषण के शिकार हैं, राज्य की एक भी यूनिवर्सिटी देश की टॉप यूनिवर्सिटी में शामिल नहीं है। आज भी ओडिशा के गांव शुद्ध पानी से महरूम हैं? आज भी प्रदेश के हजारों विद्यालय ऐसे हैं जहाँ शिक्षण नहीं है, जहां हैं, वहां भी उतने शिक्षण नहीं हैं जितने होने चाहिए। आखिर बीजद सरकार के 19 वर्षों के शासन के बावजूद ओडिशा की ऐसी स्थिति क्यों है? नवीन बाबू को बीजद सरकार के 19 वर्षों के कार्यकाल का हिसाब देना चाहिए। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र में 10 वर्षों तक सोनिया- मनमोहन की कांग्रेस नीत यूपीए सरकार ने ओडिशा के विकास के लिए 13वें वित्त आयोग के अंतर्गत केवल 80 हजार करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध कराई। जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में प्रदेश को 5,56,565 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। इसके अतिरिक्त रेलवे परियोजनाओं के लिए 43 हजार करोड़, जलमार्ग के विकास के लिए लगभग 2000 करोड़, अमृत परियोजनाओं के लिए 1590 करोड़ और सागरमाला परियोजना के लिए लगभग 25,000 करोड़ रुपये दिए गए हैं। सिर्फ ओडिशा में लगभग 48 लाख माताओं को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ओडिशा के विकास के लिए लगभग साढ़े पांच लाख करोड़ रुपये भेजे लेकिन ये राज्य की गरीब जनता तक पहुंचने से पहले ही बीजद सरकार के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए। एयरस्ट्राइक को लेकर विपक्ष के सवाल पर शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश से आतंकवादियों को ख़त्म करने का फैसला किया। पहले सर्जिकल स्ट्राइक और अब एयरस्ट्राइक कर मोदी सरकार ने स्पष्ट कर दिया कि देश की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद कांग्रेस का बयान निंदनीय है। एयरस्ट्राइक तो पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर हुआ लेकिन इससे कांग्रेस एंड कंपनी बौखला गई। आज लगभग सारा विपक्ष पाकिस्तान की भाषा बोल रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा और मोदी सरकार की आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस की नीति रही है- हम दुश्मन की गोलियों का जवाब गोले से देंगे। उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र में फिर से मोदी सरकार का गठन होने पर पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए हिंदू, बौद्ध एवं सिख शरणार्थियों को सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल के तहत नागरिकता दी जाएगी। शाह ने कहा कि भाजपा ने मोदी के रूप में देश को एक ऐसा प्रधानमंत्री दिया है जो 24 में से 18 घंटे देश के गरीब लोगों के विकास के लिए चिंतन करते हैं। उन्होंने पूरी दुनिया में देश के गौरव औरमान-सम्मान को बढ़ाया है। उन्होंने ओडिशा की जनता से अपील करते हुए कहा कि आपने राज्य में कांग्रेस को भी मौके दिए, 19 वर्षों से आपने बीजद को भी मौका दिया लेकिन प्रदेश का विकास नहीं हो पाया। आप एक अवसर भारतीय जनता पार्टी को दीजिए, हम पांच वर्षों में ही ओडिशा को देश के सर्वोत्तम प्रदेश बनाने के प्रयास करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/समन्वय/आकाश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image