Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 07:50 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

दीपावली के पटाखों ने दिल्ली की हवा में घोला जहर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 8 2018 2:42PM
दीपावली के पटाखों ने दिल्ली की हवा में घोला जहर

सुशील

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित देशभर में दीपावली का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान हुई आतिशबाजी का असर हवा की गुणवत्ता पर हुआ| गुरुवार सुबह पूरी दिल्ली स्मॉग की चादर में लिपटी नजर आई। दिल्ली के अधिकांश इलाकों में वायु गणवत्ता का स्तर (एक्यूआई) एक हजार के पास पहुंच गया जो कि 'बेहद खराब' श्रेणी के करीब है।
दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर है। दीपावली पर पटाखे छोड़े जाने की वजह से प्रदूषण स्तर और ज्यादा बढ़ जाता है। प्रदूषण नियंत्रण करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में 8 से 10 बजे के बीच में पटाखे चलाने की इजाजत दी थी, तो दिल्ली-एनसीआर में ग्रीन पटाखे चलाने की अनुमति दी थी। लेकिन दिल्ली में शाम 6 बजे से लोगों ने पटाखे चुलाने शुरू कर दिए और रात 10 बजे के बाद भी पटाखे फोड़े गए।
 
कोर्ट के आदेश का पालन कराने की जिम्मेदारी दिल्ली पुलिस को दी गई थी, लेकिन पुलिस की कार्रवाई कहीं भी असरदार नहीं दिखी| पूर्वी दिल्ली में भी लोगों ने कोर्ट के आदेश के बावजूद जमकर पटाखे जलाए। कुल मिलाकर दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का कोई असर नहीं दिखा।
दिल्ली ने गुरुवार सुबह साल की सबसे खराब वायु गुणवत्ता एक्यूआई दर्ज की। सुबह 6 बजे पूरी दिल्ली का औसत एक्यूआई 805 दर्ज किया गया। पूर्वी दिल्ली के आनंद विहार, शाहदरा, पड़पड़गंज और मेजर ध्यान चंद स्टेडियम में एक्यूआई 999 वहीं चाणक्यपुरी में 459 दर्ज किया गया। दिल्ली के लुटियंस जोन की बात करें तो राजपथ सुबह स्मॉग में लिपटा नजर आया।
 
image