Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अगस्त 18, 2018 | समय 20:27 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बायोमेट्रिक तरीके से होगा छात्रों का अटेंडेंस

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 16 2018 5:50PM
बायोमेट्रिक तरीके से होगा छात्रों का अटेंडेंस
मुंबई, 16 जून (हि.स.)। लगातार पिछले कई सालों से शिकायतें आ रही थी की जूनियर कॉलेज के विज्ञान कॉलेज के छात्र नियमित कक्षाओं में भाग लेने के दौरान केवल प्रेक्टिकल कक्षाओं में ही अपनी उपस्थितिदर्ज कराते है, इस बारे में विधायकों ने कई बार इस बारे में सवाल भी खड़ा किया है। लिहाजा जूनियर कॉलेजों के विज्ञान कॉलेज के छात्रों की उपस्थिति बॉयोमेट्रिक तरीके से शुरू की जाएगी। ताकि इन सभी को रोका जा सके। सरकार ने शुक्रवार को इस बारे में एक निर्णय भी लिया। सरकार के इस फैसले के बाद अब इंटिग्रेटेड कॉलेजों की मनमानी पर रोक लगेगी। इस बारे में युवा सेना ने भी एक आंदोलन किया था। जहां एक ओर अखिल भारतीय विद्यार्थी सेना ने इसका स्वागत किया है तो वही दूसरी ओर Students' Federation of India (एस एफ आय) ने इसका विरोध किया है। आने वाले शैक्षणिक वर्ष में, बायोमेट्रिक उपस्थिति प्रणाली का उपयोग किया जाएगा और इस उद्देश्य के लिए रिमोट मॉनिटरिंग डिवाइस का उपयोग किया जाएगा। इस मशीन पर, छात्रों की अपने अंगूठे के निशान लगाने होंगे जिससे छात्र की उपस्थिती मानी जाएगी। सभी निजी सहायता, गैर-सहायता प्राप्त, आंशिक रूप से सहायता प्राप्त, सहायता समर्थ जूनियर विज्ञान के छात्रों की उपस्थिति के लिए अब बायोमैट्रिक उपस्थिती अनिवार्य होगी। मुंबई, पुणे, नागपुर, नासिक और औरंगाबाद में शैक्षणिक वर्ष आ रहा है , इन पांच क्षेत्रों के सभी जूनियर कॉलेजों के विज्ञान शाखा के छात्रों की उपस्थिति बायोमेट्रिक के लिए अनिवार्य होगी। हिन्दुस्तान समाचार/धीरज/राजबहादुर
image