Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, दिसम्बर 16, 2018 | समय 10:52 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मोटरमैन चद्रकांत सावंत की सूझबूझ से बची हजारों जानें

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 3 2018 5:03PM
मोटरमैन चद्रकांत सावंत की सूझबूझ से बची हजारों जानें

मुंबई, 03 जुलाई (हि.स.)। मंगलवार सुबह अंधेरी स्टेशन के पास एक ओवरब्रिज के गिरने से पूरे वेस्टर्न रेल सेवा को रोकना पड़ा। इस घटना में छह लोग घायल हो गए, लेकिन मोटरमैन चंद्रकांत सावंत ने अपनी सूझबूझ न दिखाई होती तो आज ये हादसा और भी बड़ा हो सकता था।

बोरीवली से चर्चगेट के लिए निकलने वाली ट्रेन जब 7.15 बजे अंधेरी पहूंची तो हर रोज की तरह मंगलवार को भी इस गाड़ी में लोग भरे हुए थे। गाड़ी के मोटरमैन चंद्रकांत सावंत ने जैसे ही गाड़ी को अंधेरी से आगे निकलने के लिए गाड़ी शुरू की तो उन्होंने 100 फुट की दूरी से देखा कि आगे ब्रिज गिरा हुआ है। सावंत ने तुरंत ही इमरजेंसी ब्रेक लगाया और हजारो लोगों की जाने बच गई। चंद्रकांत सावंत से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि जब उन्होंने गिरा हुआ ब्रिज देखा तो सबसे पहले ट्रेन के इमरजेंसी ब्रेक को दबाया जिसके कारण गाड़ी घटनास्थल से काफी पहले रुक गई और यात्रियों की जान बच गई।

हिन्दुस्थान समाचार/रीमाधीरज

image