Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अप्रैल 20, 2019 | समय 01:46 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

व्यापारी की हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 11 2019 9:07PM
व्यापारी की हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग
मंदसौर, 11 अप्रैल (हि.स.) । बुधवार रात डायमंड ज्वेलर्स के संचालक अनिल सोनी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गुरुवार को परिजनों सहित अन्य लोगों में खासा आक्रोश देखा गया। परिजनों ने पोस्टमार्टम के बाद शव को गांधी चौराहा पर रखकर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान चक्काजाम कर मानव श्रंखला बनाई। इधर, परिजनों ने चार नामजद लोगों पर आरोप भी लगाया है। वहीं, पुलिस अधिकारियों पर भी आरोप लगाये गये हैं। हालांकि पुलिस को अभी कुछ खास सफलता नहीं मिली है। पांच छह लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जानकारी के अनुसार बुधवार रात हुई डायमंड ज्वेलर्स के संचालक अनिल सोनी की हत्या को लेकर परिजनों और समाजजनों के साथ अन्य लोगों में काफी आक्रोश है। रात को जिला अस्पताल में परिजनों ने गंभीर आरोप पुलिस पर लगाए थे। इसके बाद गुरुवार सुबह आठ बजे शव का पोस्टमार्टम किया गया। तीन डॉक्टरों की टीम ने आठ से दस बजे तक शव का पोस्टमार्टम किया और इसके बाद शव को परिजनों के सुर्पुद किया। शव को लेकर परिजनों सहित अन्य लोग गांधी चौराहा पहुंचे। जहां परिजनों और समाजजनों ने शव को तिरंगे में लपेटकर चौराहे पर रखकर प्रदर्शन शुरु किया और चक्काजाम कर मानव श्रंखला बनाई। चक्काजाम के दौरान जाम लग गया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल और कलेक्टर धनराजू एस ने परिजनों से बात की। परिजनों ने आजम लाला, कययूम लाला, चुन्नूलाला सहित एक अन्य पर आरोप लगाए। इसके अलावा पूर्व एसपी मनोजसिंह पर भी गंभीर आरोप लगाए गए। परिजनों ने कहा कि जांच टीआई विनोदसिंह कुशवाह को नहीं सौंपी जाए। उनका कहना है कि कुशवाह द्वारा अनिल सोनी पर झूठे मामले दर्ज किए गए थे। हत्यारों की मदद करने वाले सफेदपोशों और पुलिस वालों की पहचान कर उन पर भी कार्रवाई की जाए। परिजनों ने कहा कि बुधवार शाम चार बजे अनिल सोनी ने थाने में जान का खतरे की बात को लेकर आवेदन दिया था। इसके बाद भी पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया। कलेक्टर-एसपी ने परिजनों को आश्वासन दिया। इस पर परिजनों ने कहा कि चौबीस घंटे में आरोपियों को नहीं पकड़ा गया, तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। दोपहर एक बजे अनिल सोनी की शवयात्रा उनके निवास स्थान से निकाली गई। पुलिस के हाथ खाली पुलिस ने बुधवार रात को सीसीटीवी कैमरे खंगाले। अलग अलग टीमें तैयार कर छानबीन शुरु कर दी। हालांकि अभी तक स्पष्ट क्लू पुलिस को नहीं मिला है। पुलिस का कहना है कि चार पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। सांसद ने की डीआईजी से बात सांसद सुधीर गुप्ता बुधवार रात को करीब डेढ़ बजे अस्पताल पहुंचे। यहां उन्होंने आधे घंटे तक एसपी से चर्चा की। इसके अलावा डीआईजी से भी बात की। उन्होंने इस मामले में जल्द से जल्द आरोपियों को पकडने के लिए निर्देशित किया। विधायक मिले एसपी से सराफा व्यापारी अनिल सोनी की जघन्य हत्या के दूसरे दिन गुरुवार को मन्दसौर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल ने कलेक्टर धनराजू एस और एसपी विवेक अग्रवाल से मुलाकात की। विधायक सिसोदिया ने अधिकारियों के सामने मन्दसौर में लगातार हो रहे अपराधों को लेकर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि महज 80 से 85 दिन में सरेबाजार एक जनप्रतिनिधि सहित दो लोगों की जघन्य हत्या से मन्दसौर के लोग दहशत में हैं। सिसोदिया ने कहा कि पुलिस अपराधी और अपराधियों को संरक्षण देने वालो के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि समाज, परिजन और जनप्रतिनिधि पूरी तरह से प्रशासन और पुलिस के साथ है, बशर्ते कि कार्रवाई पूरी तरह निष्पक्ष हो। इस दौरान मन्दसौर कलेक्टर धनराजू एस और एसपी विवेक अग्रवाल ने प्रतिनिधिमंडल को विश्वास दिलवाया कि मामले के सभी पहलुओं की जांच की जा रही हैं, जल्द ही गुत्थी सुलझा ली जाएंगी। हिन्‍दुस्‍थान समाचार/अशोक/गौरव/मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image