Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, अप्रैल 25, 2019 | समय 01:32 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

नई व्यवस्थाः मतदान केंद्रों पर तीन कतारों में डाले जाएंगे वोट

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 11 2019 7:57PM
नई व्यवस्थाः मतदान केंद्रों पर तीन कतारों में डाले जाएंगे वोट
नागदा, 11 अप्रैल (हि.स.)। लोकसभा चुनाव में मतदाताओं को सुविधाजनक व्यवस्था से वोटिंग कराई जाएगी। मतदान केंद्रों केे बाहर अधिक संख्या की स्थिति में वोटिंग करने वालें मतदाताओं की तीन कतारें लगाई जाएंगी। एक कतार विशिष्ट होगी, जिसमें शिशु की मां, वृद्धजन तथा दिव्यागों को शामिल किया जाएगा। इस कतार में खड़े मतदाताओं को वोट डालने के लिए प्राथमिकता होगी। जबकि दूसरी तथा तीसरी श्रेणी की कतारों में क्रमश: महिलाओंं और पुरूषों की होगी। यह बात उज्जैन के अपर कलेक्टर ऋषभ गुप्ता ने गुरुवार शाम को औद्योगिक नगर नागदा में मीडिया से बातचीत में कही। अपर कलेक्टर यहां लोकसभा चुनाव में सेक्टर अधिकारियों को सर्किट हाउस में प्रशिक्षण देने पहुंचे थे। प्रशिक्षण के बाद गुप्ता प्रेस से मुखातिब हुए। हिंदुस्थान समाचार संवाददाता के एक सवाल के जवाब मेें अपर कलेक्टर ने तीन कतारें की बात को स्पष्ट किया। उन्होंने बताया तीन कतारों में खड़े मतदाताओं में से सबसे पहले विशिष्ट पक्ति में खड़े लोगों को मत देने में प्राथमिकता मिलेगी। उसके बाद महिलाओं की कतारों में से दो महिलाओं को तथा एक पुरूष को क्रम से वोट देने दिया जाएगा। अपर कलेक्टर ने यह भी बताया जिन महिलाओं की गोद में बच्चें हो उनकों वोटिंग करते समय किसी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ा इसलिए मतदान केंदों पर मिनी झूलाघर की व्यवस्था भी होगी। जिससे छोटे बच्चों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़ा। मिनी झूला घर की व्यवस्था की जिम्मेदार आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं आदि को दी जाएगी। इसी प्रकार से मतदान केंदों पर व्यवस्था में मदद के लिए कुछ छात्र-छात्राओं को तैनात किया जाएगा। ये छात्र कक्षा 9 से 11 तक आदि स्तर के होंगे। मतदान केंद्रो पर पेयजल व्यवस्था के पर्याप्त इंतजाम रखने के प्रयास भी किए जाएंगे। अधिकारी गुप्ता ने एक सवाल के जवाब में स्पष्ट किया कि लोकसभा चुनाव में तैनात अधिकारियों को प्रशिक्षण के बाद उनकी निपुणता को जांचा जाएगा। जिसके लिए परीक्षा से भी गुजरना होगा। जो भी कर्मचारी अनुतीर्ण होगा उसे कार्य से अलग नहीं किया जाएगा बल्कि उसको फिर परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा। परीक्षा की तिथि भी तय कर दी गई। जिसका समूचे उज्जैन लोकसभा सीट का एक शेड्यूल बनाया गया है। इस मौके पर नागदा के एसडीएम आरपी वर्मा भी मौजूद थे। प्रेसवार्ता के पहले अधिकारी ने सैक्टर अधिकारियों की सर्किट हाउस में क्लास ली। इस मौके पर अपर कलेक्टर के तेवर काफी कड़े देखे गए। सेक्टर अधिकारियों के चुनावी ज्ञान को जांचने के लिए प्रत्येक सैक्टर अधिकार से सवाल किए। कई अधिकारी जब जवाब नहीं दे पाए तो अपर कलेक्टर ने उन्हें फ टकार भी लगाई। अच्छे जवाब देने वाले अधिकारियों की जहां बैठक में सराहना की तो कई अधिकारियों पर नाराजगी का इजहार भी किया। सैक्टर अधिकारियों को अध्ययन करने की सीख भी दी। हिन्दुस्थान समाचार/ कैलाश / मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image