Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 19, 2019 | समय 19:46 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

गांव में ही बोरे में बंद मिला तीन दिन से लापता बालक का शव, नरबलि की आशंका

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 11 2019 7:20PM
गांव में ही बोरे में बंद मिला तीन दिन से लापता बालक का शव, नरबलि की आशंका
जबलपुर, 11 अप्रैल (हि.स.)। जबलपुर के समीपी गांव चरगांवा में पिछले तीन दिनों से लापता एक बालक का शव गुरुवार को गांव के ही एक घर में मिला। परिजनों ने आशंका जताई है, कि बालक की नरबलि दी गई है। पुलिस इस आरोप की जांच कर रही है। चरगवां थानांतर्गत सगड़ा निवासी 10 वर्षीय बालक के अपहरण की गुत्थी चौथे दिन गुरुवार को सुलझी। बालक की लाश गांव के ही एक व्यक्ति के घर में बोरे में मिली। चार दिन से परिवार सहित पूरे गांव के लोग उसकी तलाश में जुटे थे। शव मिलने के बाद से मां-पिता बदहवास हैं और गांव में तनाव के चलते अधिकारियों सहित भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। गांव में ये भी चर्चा है कि बच्चे की नरबलि दी गई है। इस मामले को नवरात्रि से भी जोड़ा जा रहा है। हालांकि पुलिस ने अभी इस बात की पुष्टि नहीं की है। पुलिस हत्या के कारणों की जांच कर रही है। बताया जाता है कि सगड़ा गांव निवासी उत्तर गिरी का 10 वर्षीय बेटा बादल सोमवार सुबह दस बजे मोहल्ले में खेलने निकला था। उसे आखिरी बार एक लड़की ने चक्की वाले साहबलाल के साथ देखा था, तब से उसका पता नहीं चल रहा है। दोपहर तक जब वह घर नहीं लौटा तो उसकी मां ममता तलाश में निकली। पूरा गांव छान मारा, लेकिन उसका पता नहीं चला। इसके बाद परिवार के लोग थाने पहुंचे और अपहरण का मामला दर्ज कराया। बच्चे की तलाश में जुटे बड़े पिता सतमन गिरी गोस्वामी ने बताया कि बादल उसके छोटे भाई का इकलौता बेटा है। उससे छोटी एक बेटी है। बादल के गायब होने के सदमें में पूरे गांव में किसी के घर चूल्हा तक नहीं जला। बेटे की हत्या होने का सदमा मां ममता व पिता उत्तर गिरी बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं। दोनों रह-रह कर बेसुध हो जा रहे थे। ग्रामीण एएसपी रायसिंह नरवरिया ने बताया कि शव दो तीन दिन पुराना है। लाश से दुर्गंध आने के बाद पता चला। पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी है। हिन्दुस्थान समाचार/ ददन/चन्द्र / मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image