Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, अप्रैल 23, 2019 | समय 03:50 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

व्यय निगरानी एजेंसियां 24 घंटे सक्रियता से करें काम: कलेक्टर जाटव

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 10 2019 5:06PM
व्यय निगरानी एजेंसियां 24 घंटे सक्रियता से करें काम: कलेक्टर जाटव
इंदौर, 10 अप्रैल (हि.स.)। कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव की अध्यक्षता में बुधवार को कलेक्ट्रेट में लोकसभा निर्वाचन-2019 के मद्देनजर व्यय निगरानी एजेंसियों की बैठक हुई। इस दौरान कलेक्टर जाटव ने कहा कि जिले में व्यय निगरानी एजेंसियां 24 घण्टे सक्रियता से काम करें। जिले में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए जांच और कार्यवाही सतत् चलती रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिले में आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराना जरूरी है। जिले में फ्लाइंग स्कॉड और स्टेटिक सर्विलेंस टीम काम कर रही है। इसके अलावा नगद राशि और ड्रग्स पर विशेष निगरानी रखने की जरूरत है। इंदौर एयरपोर्ट और इंदौर रेलवे स्टेशन से अभी तक कोई नगर जब्त नहीं हुई है। नारकोटिक्स, आयकर, रेलवे, एयरपोर्ट अथॉरिटी अपने नियमित कामकाज के साथ चुनाव संबंधी दायित्व भी गंभीरता से निर्वहन करें। चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद अभी तक मात्र 38 लाख 60 हजार और आयकर विभाग के चार मामलों में 81 हजार रुपये जब्त किये गये हैं। आबकारी विभाग के द्वारा 22 मामलों में 10 हजार लीटर अवैध मदिरा जब्त की गई हैं। इंदौर एयरपोर्ट पर सघन जाँच की जरूरत है। विशेष विमानों और माल वाहक विमानों की विशेष जांच की जाना चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि बैंकर्स 10 लाख से अधिक निकासी की जानकारी प्रतिदिन जिला निर्वाचन कार्यालय को दें। असाधारण और संदेहास्पद आवक-जावक पर कड़ी निगरानी रखी जायें। सहायक रिर्टरिंग ऑफिसर्स की अपने क्षेत्र में जॉच पड़ताल तेज कर दें। एसडीएम सांवेर को छोडक़र अभी कहीं से भी कोई जब्ती नहीं हुई है। व्यय निगरानी से जुड़ी सभी एजेंसियां की गई कार्यवाही से जिला निवार्चन कार्यालय को ईमेल के माध्यम से प्रतिदिन अवगत करायें। इस अवसर पर एसएसपी रूचि वर्धन ने कहा कि पुलिस, आरटीओ और एक्साइज विभाग हफ्ते में एक दिन या रात में सामूहिक कार्यवाही करें। यह जिला बहुत बड़ा जिला है और प्रदेश के व्यय लेखा के संबंध में 05 सबसे संवेदनशील जिलों में से एक है। अपर कलेक्टर अजय देव शर्मा ने कहा कि फ्लाइंग स्कॉड, स्टेटिक सर्विलेंस टीम, परिवहन विभाग और आबकारी विभाग जिले में 10 मार्च से जाँच और कार्यवाही निरंतर कर रहे हैं। ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में संपत्ति विरूपण का प्रभावी क्रियांवयन किया जा रहा है। बैठक में अपर कलेक्टर कैलाश वानखेड़े, एडीशनल एसपी मनीषा पाठक, उप जिला निर्वाचन अधिकारी प्रतुल सिन्हा के अलावा, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट अथॉरिटी, नारकोटिक विभागों के प्रतिनिधि मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image