Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, अप्रैल 24, 2019 | समय 04:19 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

न्यायालय में लंबित प्रकरणों का समय पर जवाब प्रस्तुत करें: कलेक्टर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 8 2019 7:12PM
न्यायालय में लंबित प्रकरणों का समय पर जवाब प्रस्तुत करें: कलेक्टर
ग्वालियर, 08 अप्रैल (हि.स.)। न्यायालय में लंबित मामलों में समय पर जवाब प्रस्तुत करें। यदि संपर्क अधिकारी समय पर जवाब नहीं देते हैं, तो उन पर दो हजार रुपये का अर्थदंड लगाया जायेगा। सभी अपने-अपने विभागों से संबंधित न्यायालय के लंबित प्रकरणों की जानकारी समय पर प्रस्तुत करें। यह निर्देश कलेक्टर अनुराग चौधरी ने सभी अधिकारियों को दिए हैं। साथ ही समय-सीमा पत्रों पर समय पर कार्रवाई की जाए। यह निर्देश कलेक्टर अनुराग चौधरी ने सोमवार को आयोजित टीएल बैठक में समय-सीमा पत्रों एवं सीएम हैल्पलाइन की भी समीक्षा करते हुए दिये। उन्होंने सभी जिला अधिकारियों को स्पष्ट कहा है कि समय-सीमा पत्रों पर समय-सीमा के भीतर ही कार्रवाई करें। सीएम हैल्पलाइन की शिकायतों को एल-1 स्तर पर ही देखें और उनका निराकरण करें। उन्होंने जिला आपूर्ति नियंत्रक को राशन की दुकानों का भ्रमण करने के निर्देश दिए हैं और कहा है कि दुकानों पर लापरवाही दिखने पर कार्रवाई करें। कलेक्टर ने सहायक श्रमायुक्त को निर्देश दिए हैं कि जिले में संचालित ऐसी इकाईयों का भ्रमण करें। जिनमें 100 से अधिक की संख्या में श्रमिक कार्यरत हैं। श्रमिकों की समस्यायें जानने के साथ ही इन इकाईयों में स्वीप गतिविधियों का प्रचार-प्रसार करें। ईवीएम-वीवीपैट का डेमो दिया जाए। उन्होंने सभी जिला अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अपने-अपने कार्यालयों एवं अधीनस्थ कार्यालयों में निरीक्षण करें और कार्य की स्थिति देखें। यह महत्वपूर्ण है कि जितने अधीनस्थ अधिकारी व कर्मचारी हैं वह सक्रिय रूप से काम करें। बैठक में अपर कलेक्टर अनूप कुमार सिंह, रिंकेश वैश्य, एसडीएम एवं विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे। अपने-अपने क्षेत्र में रात्रि में विजिट करें एसडीएम कलेक्टर अनुराग चौधरी ने सभी एसडीएम को निर्देश दिए हैं कि अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण करें। विशेषकर रात्रि के समय भी भ्रमण कर स्थिति का जायजा लें। विभिन्न नाकों पर तैनात एसएसटी व एफएसटी के काम की मॉनीटरिंग करें। साथ ही चिकित्सा केन्द्रों में भी जायजा लेने जाएं। अस्पतालों में रात के समय डॉक्टरों की उपस्थिति, मरीजों को तत्काल इलाज की स्थिति देखें। साथ ही ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार के लिए भी समस्त एसडीएम अपने-अपने क्षेत्र में वर्कआउट करें। किसी चौराहे पर ऐसी दुकानें अथवा ठेले आदि के कारण यदि ट्रैफिक जाम होता है और इन्हें शिफ्ट किया जा सकता है तो अन्य स्थान पर व्यवस्थित कराएं। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image