Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 14:27 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सीआरपीएफ ने की मप्र पुलिस के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 8 2019 2:56PM
सीआरपीएफ ने की मप्र पुलिस के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत
भोपाल, 07 अप्रैल (हि.स.)। मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़ व निजी सलाहकार आरके मिगलानी सहित उनसे जुड़े अन्य लोगों पर आयकर विभाग ने रविवार को हुई छापेमारी को लेकर जहां सियासत बहुत गर्मा गई है, वहीं सीआरपीएफ और पुलिस के बीच हुई तकरार को लेकर मामला सोमवार को चुनाव आयोग में पहुंच गया। भोपाल स्थित प्लेटिनम प्लाजा में अश्वनी शर्मा के आवास पर रविवार सुबह से आयकर विभाग की कार्यवाही जारी है। शाम को आयकर की कार्रवाई के दौरान प्रदेश की पुलिस वहां पहुंच गई, जिसकी सीआरपीएफ से तनातनी हो गयी थी । सीआरपीएफ का आरोप था कि मध्यप्रदेश की पुलिस हमारे काम में व्यवधान डाल रही है, तो वहीं प्रदेश पुलिस के आला अधिकारियों का कहना था की हम अपनी ड्यूटी करने प्लेटिनम प्लाजा पहुंचे थे । मध्यप्रदेश पुलिस के आयकर छापे के दौरान सीआरपीएफ के काम में बाधा पहुंचाने को लेकर सीआरपीएफ ने सोमवार को चुनाव आयोग को तथ्यों के साथ शिकायत दर्ज करवायी है। इस शिकायत में सीआरपीएफ ने आयोग के समक्ष इस पूरी घटना के मामले में सभी तथ्य और मीडिया रिपोर्ट्स प्रस्तुत कीं । अब यह देखना है कि आयोग इसमें क्या कार्रवाई करता है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आयकार विभाग की स्पेशल विंग ने जबलपुर में छापेमारी कर एक बड़े हवाला रैकेट को पकड़ा था । जबलपुर छापेमार कार्यवाही में शहर के एक बड़े लोहा व्यापारी खूबचन्द लालवानी के पास से 65 लाख रुपये नकद बरामद हुए थे । इस छापेमारी में मिले दस्तावेजों की प्रारंभिक जांच से पता चला था कि लोहा व्यापारी लालवानी पिछले पांच सालों में हवाला के जरिये लगभग 4 हज़ार करोड़ रुपये का लेनदेन कर चुका है। इसे मध्यप्रदेश में अब तक का सबसे बड़ा हवाला कारोबार का खुलासा माना गया था। सूत्रों के अनुसार भोपाल, इंदौर में हुई छापेमारी कार्यवाही की जानकारी चुनाव आयोग को पहले से थी, क्योंकि जबलपुर में हुई छापामारी में कई महत्वपूर्ण सबूत व दस्तावेज़ मिले थे, जो हवाला कारोबार से जुड़े थे। हिन्दूस्थान समाचार / आशीष /मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image