Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, जुलाई 20, 2018 | समय 12:13 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पांच दिवसीय शिमला दौरे की तैयारियां शुरू

By HindusthanSamachar | Publish Date: May 16 2018 11:36AM
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पांच दिवसीय शिमला दौरे की तैयारियां शुरू
शिमला, 16 मई (हि.स.)। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के शिमला दौरे को लेकर आधिकारिक रूप से तैयारियां शुरू हो गई हैं। गर्मिर्यों की छुट्टियां बिताने राष्ट्रपति 20 मई से पांच दिवसीय दौरे पर यहां आ रहे हैं। राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद पहली बार शिमला आएंगे। वह शिमला के समीप छराबड़ा में राष्ट्रपति निवास रिट्रीट में ठहरेंगे और 24 मई को उनका वापसी का कार्यक्रम है। राष्ट्रपति के दौरे को देखते हुए राज्य सरकार तैयारियों में जुटी हुई है। प्रदेश पुलिस विभाग व सीआईडी ने भी सुरक्षा प्रबंधों की तैयारियां को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है। मुख्य सचिव विनीत चैधरी ने विभागीय अधिकारियों को व्यापक सुरक्षा प्रबंध सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए हैं। हालांकि, राष्ट्रपति की सुरक्षा को लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियां भी मुस्तैद रहेंगी। लेकिन, राज्य सरकार अपनी तरफ से सुरक्षा के हरसंभव इंतजाम करना चाहती है। राष्ट्रपति के दौरे को लेकर सुरक्षा के दृष्टिगत विभिन्न स्थानों पर एक हजार से अधिक जवानों की तैनाती की जाएगी। जुब्बड़हट्टी, अनाडेल और कल्याणी हेलिपैड से लेकर कुफरी-छराबड़ा मार्ग पर पुलिस का कड़ा पहरा होगा। राष्ट्रपति के स्वागत के लिए राष्ट्रपति निवास रिट्रीट भवन को फूलों से सजाया जा रहा है। इसके अलावा शहर के मुख्य मार्गों पर भी साफ-सफाई का काम जोरों-शोरों से चल रहा है। इस बीच राष्ट्रपति के दौरे के दौरान होने वाली सरकारी बैठकों को स्थगित कर दिया गया है। ये बैठकें अब 25 मई के बाद होंगीं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति के प्रस्तावित दौरे को देखते 20 से 24 मई के बीच राज्य सचिवालय में मंत्रियों की अध्यक्षता में होने वाली सरकारी बैठकें रद्द कर दी गई हैं। इस दौरान राज्य सरकार के तमाम मंत्री शिमला में ही रहेंगे। मंत्रियों को राष्ट्रपति के प्रवास के दौरान शिमला में ही रुकने को कहा गया है। गौरतलब है कि रामनाथ कोविंद मई, 2017 में भी शिमला आए थे। लेकिन उस समय वह बिहार के राज्यपाल थे तथा उनके ठहरने की व्यवस्था राजभवन शिमला में की गई थी। उस समय वह परिवार सहित राष्ट्रपति आवास द रिट्रीट को देखने पहुंचे थे, लेकिन वहां तैनात सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें प्रवेश द्वार पर ही रोक दिया था और उन्हें राष्ट्रपति आवास को देखे बिना ही लौटना पड़ा था। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनीत
image