Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 18:33 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बांदीपुर टाइगर रिजर्व के जंगलों में भीषण आग से हजारों पेड़ खाक

By HindusthanSamachar | Publish Date: Feb 25 2019 1:01PM
बांदीपुर टाइगर रिजर्व के जंगलों में भीषण आग से हजारों पेड़ खाक

नूरुद्दीन

बेंगलुरु, 25 फरवरी (हि.स.)। कर्नाटक और तमिलनाडु की सीमा स्थित बांदीपुर टाइगर रिजर्व के जंगलों में गुरुवार शाम लगी भीषण आग ने विकराल रूप धारण कर लिया है। तीन हजार हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में फैली आग से हजारों पेड़ जलकर खाक हो गए हैं। हालांकि इस तथ्य की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन आग की चपेट में आने से जंगली जानवरों के भी मरने की आशंका है।

कर्नाटक वन विभाग के लिए इस आग को बुझाना बड़ी चुनौती बनी हुई है। राज्य के वन मंत्री सतीश जारकीहोली ने विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ अग्निस्थल का दौरा किया। उन्होंने कहा कि शरारती तत्वों ने यह आग लगाई है। वहीं अब विभाग आग को रोकने के लिए जनता से समर्थन की अपील कर रहा है।

बांदीपुर, गोपालस्वामी बेट्टा पर्वतमाला, चमनहल्ली क्षेत्र, केरल और बांदीपुर के कुल्लू बेट्ट्र के कुछ हिस्सों में आग फैल रही है। यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग-67 बंद कर दिया गया है। रविवार की देर शाम भी वनविभाग के कर्मियों ने स्वयंसेवकों और अग्निशमन सेवा की सहायता से आग बुझाने के लिए कड़ी मशक्कत की।

इस संबंध में मुख्यमंत्री एचडी. कुमारस्वामी ने ट्वीट किया था कि बांदीपुर में जो कुछ भी हुआ है, वह उससे बहुत दुखी हैं। वन अधिकारी, अग्निशमन बल के कर्मचारी इसको बुझाने के लिए प्रयास कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले यहां वर्ष 2012 में 1,000 हेक्टेयर क्षेत्र में, वर्ष 2017 में 2,000 हेक्टेयर में आग लगी थी। इस दौरान युवा वनरक्षक मुरगेप्पा तमांगोल ने आग बुझाने की कोशिश करते हुए जान गंवा दी थी।

हिन्दुस्थान समाचार

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image