Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 13:44 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

गेहूं खरीद न होने पर बिफरे किसान

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 15 2019 4:29PM
गेहूं खरीद न होने पर बिफरे किसान
मंड़ी गेट को बंद कर जताया रोष जींद, 15 अप्रैल (हि.स.)। नई अनाज मंड़ी में सोमवार दोपहर तक गेहूं की खरीद न होने से गुस्साए किसानों ने मंड़ी के गेट को बंद कर दिया। किसानों ने खरीद एजेंसी पर आरोप लगाया कि उनकी फसल में नमी ज्यादा बताकर खरीद नहीं की जा रही है। अब किसान या तो मंड़ी में अपनी फसलों की रखवाली करें या खेतों में खड़ी फसलों की कटाई करें। इससे पूर्व किसान जींद-रोहतक नेशनल हाइवे पर जाम लगाते शहर थाना प्रभारी दिनेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए और खरीद कार्य शुरु करवाकर किसानों को शांत किया। नई अनाज मंड़ी में सोमवार दोपहर बाद किसानों का उस समय धैर्य जवाब दे गया जब गेहूं खरीद करने पहुंची एफसीआई के नुमाइंदों ने नमी ज्यादा बताकर गेहूं खरीदने से मना कर दिया। शुरु में किसानों की खरीद एजेंसी नुमाइंदों के साथ कहासुनी हुई। जब बात नहीं बनी तो गुस्साए किसानों ने अनाज मंड़ी के गेट को बंद कर दिया। किसानों का कहना था कि पिछले तीन दिनों से गेहूं लेकर अनाज मंडी में बैठे हुए हैं। हर रोज गेहूं में ज्यादा नमी बताई जाती है और गेहूं की खरीद नहीं की जा रही है। अब उनके सामने समस्या यह है कि वे अपनी गेहूं बेचने के लिए मंड़ी में रखवाली करें या फिर खेतों में खड़ी गेहूं फसल की कटाई करें। गुस्साए किसान जींद-रोहतक राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगाने के लिए कूच ही कर रहे थे कि उसी दौरान शहर थाना प्रभारी दिनेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने खरीद एजेंसी से बातचीत कर गेहूं खरीद के कार्य को शुरु करवाया। जिस पर किसान शांत हो गए।पिछले दो दिनों में अनाज मंडी में लगभग 20 हजार क्विंटल गेहूं पहुंच चुकी है। सरकारी खरीद को शुरु हुए 15 दिन हो चुके हैं, बावजूद इसके खरीद एजेंसियों ने गेहूं की खरीद को शुरु नहीं किया। हैरानी की बात यह है कि मार्केट कमेटी द्वारा खरीद एजेंसियों के नुमाइंदों को सुबह नौ बजे कार्यालय पहुंचने के लिए कहा गया है। बावजूद इसके खरीद एजेंसियों के नुमाइंदे दोपहर बाद ही पहुंच पा रहे हैं। खरीद एजेंसियों के व्यवहार से नाखुश मार्केट कमेटी सचिव ने खरीद एजेंसियों को नोटिस जारी कर सुबह नौ बजे मंडी में पहुंचने के आदेश दिए हैं। खरीद शुरु न होने से किसानों को तो परेशानी हो ही रही है साथ में मंडी में गेहूं भी ज्यादा पहुंचने लगा है। अगर अगले दो दिनों तक खरीद शुरु नहीं हुई तो अनाज मंडी में पांव रखने को जगह नहीं मिलेगी। मार्केट कमेटी सचिव पवन चौपड़ा ने बताया कि लगभग 20 हजार क्विंटल गेहूं अनाज मंडी में पहुंच चुकी है। खरीद एजेंसियों के नुमाइंदे समय पर नहीं आ रहे हैं, उनको नोटिस जारी किया गया है। शहर थाना प्रभारी दिनेश कुमार ने बताया कि अनाज मंडी में गेहूं की खरीद न होने पर किसानों के बिफरने की सूचना मिली थी। इससे पहले किसान हाइवे पर आते उन्हें समझा बुझाकर शांत कर दिया और खरीद एजेंसी नुमाइंदों को भी किसानों को आ रही दिक्कतों के बारे में अवगत करवा दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/विजेंद्र/पंकज
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image