Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अप्रैल 20, 2019 | समय 02:18 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

डेरा सच्चा सौदा नामचर्चा में शामिल हुए कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. तंवर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 14 2019 8:29PM
डेरा सच्चा सौदा नामचर्चा में शामिल हुए कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. तंवर
फतेहाबाद, 14 अप्रैल (हि.स.)। चुनावों को लेकर डेरा सच्चा सौदा सिरसा एक बार फिर चर्चाओं में है। डेरा का आशीर्वाद लेने के लिए राजनेताओं द्वारा उसकी शरण में जाना शुरू कर दिया गया है। सिरसा लोकसभा से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. अशोक तंवर रविवार को रतिया की नामचर्चा घर में आयोजित जिला स्तरीय नामचर्चा में शामिल हुए। कांग्रेस प्रत्याशी के अचानक नामचर्चा में पहुंचने को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं ने जोर पकड़ लिया है। लोग जहां इसे राजनीतिक फायदा लेने की बात कह रहे हैं वहीं डॉ. तंवर ने स्वयं को धार्मिक प्रवृति का बताते हुए सत्संग सुनने के लिए पहुंचने की बात कही है। हालांकि कार्यक्रम आयोजकों ने वहां उन्हें बोलने का मौका नहीं दिया गया और नामचर्चा के बाद डॉ. तंवर अपने चुनावी दौरे पर निकल गए। डॉ. तंवर के नामचर्चा मेने के बाद चुनावों में डेरा सच्चा सौदा की भूमिका को लेकर चर्चाओं का दौर तेज हो गया है। 2009 में जब तंवर सिरसा लोकसभा से सांसद बने थे तब भी डेरा प्रेमियो का आशीर्वाद तंवर के साथ ही था। अपने कार्यकाल में सांसद रहे तंवर का डेरे में काफी आना जाना था। वर्ष 2014 में चुनाव हारने के बावजूद भी तंवर का डेरे की तरफ झुकाव किसी से छुपा नहीं है इसलिए चुनावों के समय डॉ. तंवर के नामचर्चा में आने को लेकर कई मायने लगाए जा रहे हैं कि क्या इस बार भी तंवर डेरे प्रेमियो के आशीर्वाद से अपनी नैया पार लगा लेंगे। जिला स्तरीय नामचर्चा में उमड़ी भारी भीड़ को भी लोकसभा चुनावों को लेकर डेरा प्रेमियों का शक्ति प्रदर्शन माना जा रहा है। डेरा प्रेमी इसे राजनीति से नहीं जोड़ रहे बल्कि इसे स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में धार्मिक कार्यक्रम का नाम दे रहे हैं। नामचर्चा घर के बाहर पत्रकारों से बातचीत करते हुए डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि देश व प्रदेश की जनता के समक्ष कांग्रेस ही एक विकल्प है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमेशा पूंजीपतियों की ही मदद की है, गरीब वर्ग की कोई सहायता नहीं की, जिस कारण इस बार चुनाव में भाजपा की पूरी तरह हवा निकल जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इनेलो का सफाया हो चुका है, जबकि जजपा व आप पार्टी का अभी कोई जनाधार नहीं है। देश व प्रदेश की जनता के समक्ष कांग्रेस ही एक विकल्प है जो राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में देश को एक नई स्वच्छ सरकार देगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हाईकमान द्वारा अन्य 4 प्रत्याशियों की घोषणा भी शीघ्र कर दी जाएगी। धार्मिक कार्यक्रम में शिरकत करने पर राजनैतिक लाभ लेने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वे धार्मिक प्रवृति के व्यक्ति है। वे जब फतेहाबाद में दौरे पर थे तो उन्हें समर्थकों के माध्यम से रतिया के नामचर्चा घर में धार्मिक आयोजन की बात पता चली थी तो वे सत्संग सुनने यहां चले आए। उन्होंने कहा कि वे धार्मिक कार्यक्रमो में राजनीति नहीं करते, उनका मकसद सिर्फ सत्ंसग सुनना था। इस अवसर पर उनके साथ सिरसा संसदीय क्षेत्र के प्रभारी तेजवीर ङ्क्षसह, जिला प्रभारी ओमप्रकाश, कीर्ति जैन, पूर्व राज्य मंत्री राम स्वरूप रामा, सुभाष बिश्रोई, दीपक भिरडाना, मंगत राम लालवास, सोनू जिंदल सहित अन्य कार्यकर्ता भी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/अर्जुन/पंकज
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image