Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अप्रैल 20, 2019 | समय 12:18 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

प्रदेश में करीब पांच हजार से अधिक लाइसेंसी हथियार अभी तक नहीं हुए जमा, सुरक्षा व्यवस्था पर बड़ा सवाल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 10 2019 8:54PM
प्रदेश में करीब पांच हजार से अधिक लाइसेंसी हथियार अभी तक नहीं हुए जमा, सुरक्षा व्यवस्था पर बड़ा सवाल
रोहतक, 10 अप्रैल (हि.स.)। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता नहीं कहा जा सकता है, क्योंकि अभी पांच हजार से अधिक लाइसेंसी धारकों ने अपने हथियार जमा नहीं करवाएं है, जो कि सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बड़ा सवाल बना हुआ है। अब हथियार जमा करवाने की डेड लाइन भी खत्म हो चुकी है। पुलिस महानिदेशक ने सभी पुलिस कप्तानों को इस बारे में उचित निर्देश दिये है और साफ कहा है कि हर हाल में हथियारों को जमा करवाया जाए। रोहतक पुलिस ने तो हथियार जमा न करवाने वालों के खिलाफ कारवाई शुरु कर दी है। पुलिस ने इस संबंध में हथियार न जमा करवाने वालों को नोटिस भेजा है और कारवाई की बात कही है। अकेले रोहतक रेंज में ही करीब आठ सौ लाइसेंस धारकों ने हथियार जमा नहीं करवाएं है। प्रदेश में इस वक्त करीब डेढ़ लाख लोगों के पास लाइसेंसी हथियार है। चुनाव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रदेश पुलिस ने लाइसेंसी धारकों को 30 मार्च तक अपने हथियार जमा करवाने के लिए कहा था, यहां तक कि थाना स्तर पर इसके लिए अलग से टीम गठित की गई। पुलिसकर्मियों ने घर-घर जाकर लाइसेंसी धारकों को हथियार जमा करवाने को कहा, लेकिन डेड लाइन खत्म होने के बाद भी अब तक पांच हजार के करीब लोगों ने हथियार जमा नहीं करवाएं है, जोकि सुरक्षा व्यवस्था के लिए खतरा बन सकते है। यहां तक की कुछ लाइसेंसी धारकों ने हथियार न जमा करवाने के लिए पुलिस अधीक्षक को अर्जी देकर अनुमति मांगी है और इसका कारण भी बताया है, लेकिन अभी उन अर्जियों पर भी कोई निर्णय नहीं हुआ है। चुनाव आयोग ने भी इस संबंध में प्रदेश सरकार को पहले ही बता दिया था और सुरक्षा प्रबंधों को लेकर रिपोर्ट तलब की है। हालांकि अभी मतदान की तारिख दूर है, लेकिन हथियार जमा ना होना सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठ रहे है। बताया जा रहा है कि अंबाला, फरिदाबाद, गुरुग्राम, पंचकुला, सिरसा, सोनीपत, भिवानी सहित 14 जिलों में सबसे अधिक हथियार जमा नहीं हुए है। अकेले रोहतक से करीब तीन सौ लाइसेंस धारकों ने हथियार जमा नहीं करवाएं है, अब पुलिस प्रवक्ता सन्नी सिंह लौरा का कहना है कि लाइसेंसी धारकों को दो बार हथियार जमा करवाने का समय दिया जा चुका है, अधिकतर हथियार जमा हो चुके है, बाकि बचे लाइसेंस धारकों को नोटिस भेजा जा रहा है, अगर उसके बावजूद हथियार जमा नहीं करवाया तो लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश के साथ-साथ उनके खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा। इस बारे में पुलिस अधीक्षक की तरफ से सभी थाना प्रभारियों को उचित दिशा-निर्देश दिये गए है। अवैध हथियारों को लेकर सुरक्षा एजेंसियों ने प्रदेश पुलिस को किया अलर्ट, सूचना देने पर मिलेंगे दस हजार रुपये सुरक्षा एजेंसियों ने प्रदेश पुलिस को अलर्ट किया है कि काफी लोगों के पास अवैध हथियार भी सकते है, चुनाव के दौरान इन हथियारों को प्रयोग किया सकता है, इसलिए इन अवैध हथियारों को लेकर विशेष अभियान चलाया जाए। जिस पर रोहतक पुलिस ने अवैध हथियारों को पकडऩे को लेकर भी विशेष अभियान चलाया है। पुलिस अधीक्षक जश्रदीप रंधावा ने अवैध हथियारों धर पकड़ के लिए सभी थानों में अलग से टीम गठित की है और अवैध हथियार रखने वालों की जानकारी देने वाले को दस हजार रुपये ईनाम देने की घोषणा की है। बकायदा इसके लिए एक वाट्सअप नंबर भी जारी किया गया है। सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/पंकज
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image