Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अप्रैल 20, 2019 | समय 01:50 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

किसानों के नए रजिस्ट्रेशन में आई समस्या को लेकर किसान उपायुक्त से मिले

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 10 2019 6:58PM
किसानों के नए रजिस्ट्रेशन में आई समस्या को लेकर किसान उपायुक्त से मिले
नारनौल, 10 अप्रैल (हि.स.)। अनाज मंडी स्थित मार्केट कमेटी कार्यालय में किसानों ने बुधवार को भी जमकर हंगामा किया तथा प्रशासन से उनकी मांगों को पूरा करने की मांग की। किसान सुबह से ही मार्केट कमेटी कार्यालय में एकत्र हुए तथा मेरी फसल-मेरा ब्योरा के तहत नए रजिस्ट्रेशन नहीं होने की मांग करने लगे। यहां उपस्थित कमेटी के सचिव अशोक कुमार यादव व चेयरमैन जे.पी. सैनी ने उनकी समस्याओं को समझते हुए फार्मों के वैरिफिकेशन में आने वाली समस्याओं के बारे में बताया, लेकिन किसान उनकी बातों पर विश्वास नहीं करते हुए हंगामा करने लगे। यहां किसानों का कहना था कि उनके नए फार्म तो कमेटी ने ले लिए हैं लेकिन उनके फार्मों का कंप्यूटर में डाउनलोड नहीं किया जा रहा है। इस पर सचिव व चेयरमैन ने बताया कि उनके फार्मों को कंप्यूटर में चढ़ाने के लिए केवल एक ही कर्मचारी के पास इसके पासवर्ड हैं तथा वह अकेला कर्मचारी दो दिन में केवल 60 फार्म ही चढ़ाकर वैरीफाई कर पाया है। उन्होंने किसानों को समझाते हुए बताया कि एक कर्मचारी को एक फार्म वैरीफाई करने में लगभग 20 मिनट का समय लगता है। जबकि यहां पर लगभग दो हजार फार्म वैरीफाई करने हैं। स्वयं उन्होंने भी स्वीकार किया कि इस गति से यदि यह काम चलता रहा तो निश्चित रूप से उक्त फार्मों के वैरीफाई में महीनों लग सकते हैं। उन्होंने बताया कि इसका समाधान तो उनके पास भी नहीं हैं। किसानों के ज्यादा हंगामा करते देख चेयरमैन तथा सचिव ने किसानों को साथ लेकर उपायुक्त से मिलने लघु सचिवालय में चले गए। लघु सचिवालय में उपायुक्त के कार्यालय में किसानों ने अपनी समस्याओं की पूरी जानकारी देते हुए उनके समाधान की मांग की। उपायुक्त के सामने किसानों की समस्या रखते हुए चेयरमैन जे.पी. सैनी ने बताया कि अब तक केवल एक ही कर्मचारी के पास पोर्टल खोलने का पासवर्ड है। यदि यह सुविधा सभी सी.एस.सी. केन्द्रों पर दे दी जाए तो किसानों की समस्याओं का आसानी से समाधान हो सकता है। चेयरमैन ने बताया कि इससे पहले भी किसानों की प्रति एकड़ 8 क्विंटल सरसों खरीद तथा जिन किसानों ने किसी कारण से अपनी खेती-अपना ब्यौरा योजना के तहत अपनी फसल का रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया था, उक्त समस्याओं को भी सरकार ने दूर कर दिया था। अब वे इस नई समस्या के समाधान की मांग भी प्रशासन व सरकार से करते हैं। इस अवसर पर एस.डी.एम. जगदीश प्रसाद शर्मा, कमेटी के सचिव अशोक यादव तथा चेयरमैन जे.पी. सैनी के अलावा दर्जनों किसान जिनमें विक्रम सिंह हुडीना, तुलसीराम ढाणी चिरागपुरा, रमेश चंद कारोली, नरेश दुबलाना, रामसिंह ढाणी बाठोठा, सुरेन्द्र कारोता, संदीप मेई, रविन्द्र व ओमप्रकाश हसनपुर, पृथ्वी सिंह व हनुमान प्रसाद कोरियावास, लालचंद भोजावास, संदीप ढाणी बास, मनोज कुमार लहरोदा, नवीन गुलावला तथा सुररा सिंह रामपुरा आदि शामिल रहे। किसानों व चेयरमैन की बातों को सुनकर उपायुक्त डॉ. गरिमा मित्तल ने बताया कि यह समस्या उच्च अधिकारियों के स्तर की है। इसके लिए चेयरमैन तथा किसानों की जो भी मांग है, उसे वह प्रदेश के उच्च स्तरीय अधिकारियों को पहुंचाकर उनकी समस्याओं का समाधान दो दिनों में करवाने का प्रयास करेंगी। उन्होंने इसके लिए लिखित में ज्ञापन देने के लिए किसानों को कहा। हिन्दुस्थान समाचार/श्याम/वेदपाल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image