Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 11:41 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

हाईकोर्ट ने बार एसो. की नई सरकार पर लगाई रोक, 14 अप्रैल को सुनवाई के लिए बुलाया

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 8 2019 4:14PM
हाईकोर्ट ने बार एसो. की नई सरकार पर लगाई रोक, 14 अप्रैल को सुनवाई के लिए बुलाया
फिलहाल बॉबी रावत ही रहेंगे बार एसो. के प्रधान फरीदाबाद, 08 अप्रैल (हि.स.)। फरीदाबाद की जिला अदालत में नवनियुक्त सरकार को अभी चौबीस घण्टे ही नहीं बीते थे कि दूसरे पक्ष द्वारा उच्च न्यायालय की शरण में आने से अब नवनियुक्त प्रधान व उनकी कार्यकारिणी को 14 अप्रैल को सुनवाई के लिए बुलाया गया है। तब तक बार एसो. के प्रधान व अन्य पदों पर पिछले प्रधान विवेक कुमार उर्फ बॉबी रावत ही पदभार संभालेंगे। एकाएक हुए इस तख्तापलट को लेकर जिला अदालत परिसर के साथ-साथ पूरे शहर में चर्चाएं जोरों पर चल रही है। गौरतलब है कि 5 अप्रैल को फरीदाबाद बार चुनाव होने तय पाए गए थे। चुनाव के दौरान कई बार मतदान की प्रक्रिया बंद हुई और फिर चालू हुई। उसके बाद अंतत: मतदान की गिनती की गई और सतेंद्र भडाना सहित उनके पूरे पैनल ने जीत की खुशी मनाई। रविवार को बकायदा सतेंद्र भड़ाना सहित सभी को शपथ भी दिलाई गई थी। सोमवार को दूसरा पक्ष यानी संजीव चौधरी गुट बार कॉउंसिल ऑफ़ पंजाब एंड हरियाणा के समक्ष पेश हुआ और मतदान के दौरान घटित पूरे वाक्य को बताते हुए फर्जी मतदान करने का आरोप लगाया, जिस पर बार कॉउंसिल ऑफ़ पंजाब एंड हरियाणा ने आदेशों में देते हुए कहा है कि मौजूदा चुनी गई नई बॉडी अगले आदेश तक कोई भी कार्य नहीं करेगी। आगामी 14 अप्रैल को सत्येंद्र भडाना सहित चुने गए सभी पदाधिकारियों को सुनवाई के लिए बुलाया है। तब तक पूर्व में चुनी गई बॉडी यानि विवेक कुमार उर्फ बॉबी पदभार को संभालेंगे। सूत्रों की मानें तो संजीव चौधरी गुट ने बार कॉउंसिल ऑफ़ पंजाब एंड हरियाणा के सामने बोगस वोटिंग का हवाला दिया है। संजीव चौधरी ने इस बाबत हाईकोर्ट के आदेशों का पत्र भी सार्वजनिक तौर पर दिखाया है। अब देखना यह है कि सुनवाई के बाद बार कॉउंसिल ऑफ़ पंजाब एंड हरियाणा दोबारा मतदान कराती है या इसी बॉडी को बहाल करती है, यह तो 14 अप्रैल को ही स्पष्ट हो पाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/मनोज/वेदपाल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image