Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 14:07 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

लोकसभा चुनाव : रोहतक सीट पर होगी भाजपा विधायकों की अग्नि परीक्षा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 7 2019 4:37PM
लोकसभा चुनाव : रोहतक सीट पर होगी भाजपा विधायकों की अग्नि परीक्षा
रोहतक लोस क्षेत्र में 9 में से 4 हैं भाजपा विधायक भाजपा ने कांग्रेस को गढ़ को तोडऩे के लिए झोंक रखी है पूरी ताकत रोहतक लोस क्षेत्र में कमल खिलाना है भाजपा का मुख्य लक्ष्य रोहतक, 7 अप्रैल(हि.स.)। लोकसभा चुनाव में भाजपा के चारों विधायकों की अग्नि परीक्षा होगी। इस चुनाव के माध्यम से भाजपा अपने विधायकों की लोकप्रियता व उनके जनसमर्थन को भी भांपेगी। पिछले लोकसभा चुनाव में सांसद दीपेंद्र हुड्डा को नौ में से 7 विधानसभा क्षेत्रों से बढिय़ा बढ़त मिली थी जबकि भाजपा उम्मीदवार ओम प्रकाश धनखड़ को बहादुरगढ़ विस क्षेत्र व कोसली विस क्षेत्र से मामूली लीड़ मिली थी। कुछ माह बाद हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा कांग्रेस को गढ़ को तोडऩे में काफी हद तक कामयाब हुई और नौ में से 4 विस क्षेत्रों पर भाजपा ने कब्जा किया। रोहतक विस क्षेत्र से भाजपा विधायक एवं सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर 11 हजार 132 मतों से , बादली क्षेत्र से कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ 9 हजार 266 मतों से , बहादुरगढ़ विस क्षेत्र से विधायक नरेश कौशिक 4 हजार 882 मतों से तथा रेवाड़ी जिले के कोसली विस क्षेत्र से बलराम ठेकेदार 8 हजार 767 मतों से विजयी हुए थे। इन चारों सीटों पर पहले कांग्रेस का कब्जा था। पिछले विस चुनाव में कलानौर अरक्षित सीट से भाजपा उम्मीदवार एवं वर्तमान सफाई कर्मचारी आयोग के चेयरमैन राम अवतार वाल्मीकि मात्र 4 हजार मतों से पराजित हुए थे। पिछले दिनों मुख्यमंत्री मनोहर लाल की कलानौर क्षेत्र की रैली में दर्जनों सरपंचों ने कांग्रेस को छोडक़र भाजपा का दामन थाम लिया। इससे भाजपा की ताकत में काफी इजाफा हुआ। महम विस क्षेत्र में भी भाजपा ने पिछले काफी समय से पूरी ताकत झोंक रखी है। रविवार को मुख्यमंत्री ने महम चौबीसी के गांव बहुअकबरपुर में रैली करके अपनी ताकत का इजहार करवा दिया है। पिछले विस चुनाव में महम से भाजपा के उम्मीदवार शमशेर खरकड़ा को कांग्रेस विधायक आनंद सिंह दांगी ने करीब साढे 9 हजार में मतों से शिकस्त दी थी। पिछले कई सालों से महम पर आनंद सिंह दांगी का कब्जा है। पिछले लोकसभा चुनाव में सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा को गढ़ी-सांपला-किलोई, महम विस, कलनौर, बेरी, झज्जर , बादली विस क्षेत्रों से काफी लीड़ मिली थी। मजेदार बात यह है कि उस चुनाव के समय प्रदेश में मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा की सरकार थी जिसका सीधा फायदा दीपेंद्र हुड्डा को हुआ। अब इस चुनाव में प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में भाजपा की सरकार है। इसका सीधा फायदा लोकसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार को हो सकता है। भाजपा उच्च कमान ने रोहतक लोकसभा सीट को अपनी प्रतिष्ठा का प्रश्र बना रखा है। इस चुनाव क्षेत्र की कमान खुद हरियाणा लोकसभा प्रभारी सांसद कलराज मिश्र, मुख्यमंत्री मनोहर लाल व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने संभाल रखी है। पिछले काफी समय से भाजपा नेताओं ने अपनी पूरी ताकत चुनाव मैदान में झोंक रखी है। सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने भी इस सीट पर लगातार चौथी बार कब्जा करने के लिए करीब ढ़ाई माह से पूरी ताकत लगा रखी है। उनके चुनाव प्रचार की कमान उनकी माता आशा हुड्डा ने संभाल रखी है। रोहतक लोस चुनाव में भाजपा के चारों विधायकों की अग्नि परीक्षा होगी। भाजपा की निगाहें इस बात पर लगी हैं कि विधायक व मंत्री अपने अपने क्षेत्रों में भाजपा लोकसभा उम्मीदवारों को कितनी लीड़ दिलवाते हैं। आगामी विधानसभा चुनाव में उनकी टिकट भी इसी बात पर निर्भर करेगी। भाजपा ने महम, कलानौर, झज्जर, बेरी, गढ़ी सांपला किलोई विस क्षेत्रों में कांग्रेस के गढ़ों में सेंध लगाने के लिए रणनीती बना रखी है। अब यह तो समय ही बताएगा कि भाजपा अपनी चुनावी रणनीति के तहत रोहतक लोकसभा सीट पर कब्जा करने में कामयाब होती है कि नहीं। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/वेदपाल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image