Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 19, 2019 | समय 19:55 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

नायब सैनी होंगे कुरुक्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 6 2019 9:36PM
नायब सैनी होंगे कुरुक्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी
कुरुक्षेत्र, 06 अप्रैल (हि.स.)। श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सिंह सैनी को कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र से भाजपा का प्रत्याशी घोषित किया गया है। नायब सैनी के भाजपा प्रत्याशी घोषित होने से उनके समर्थकों में खुशी की लहर है। नायब सैनी के कुरुक्षेत्र के चुनावी महाभारत में उतरने से साफ है कि अब दोबारा से कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र से कमल खिलने वाला है। जैसे ही नायब सैनी को कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र से प्रत्याशी घोषित होने की खबर सामने आई तो भाजपा कार्यकर्ताओं में उत्साह पैदा हो गया है। भाजपा कार्यकर्ताओं को उम्मीद है कि नायब सैनी की उम्मीदवारी से कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के विकास कार्यों पर मोहर लगाएगी। भाजपा हाइकमान ने सबसे पहले प्रदेश सरकार में श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सिंह सैनी को कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र से प्रत्याशी बनाकर विपक्षी दलों को सोचने पर मजबूर कर दिया है। नायब सिंह सैनी की उम्मीदवारी को लेकर कई दिन से चर्चाएं थी, लेकिन इन सभी चर्चाओं पर विराम लगाते हुए भाजपा हाईकमान ने नायब सैनी पर विश्वास जताया है। नायब सैनी प्रदेश सरकार में मंत्री होते हुए कुरुक्षेत्र से उनका काफी लगाव रहा। नायब सैनी की संसदीय क्षेत्र के मतदाताओं पर पूरी पकड़ है। सैनी बाहुल्य क्षेत्र होने के चलते नायब सैनी को इसका सबसे ज्यादा लाभ मिलने वाला है। बताया जा रहा है कि कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र में सैनी समाज के लगभग पौने दो लाख मतदाता हैं। दूसरी ओर नायब सैनी की साफ छवि भी उनके विजय अभियान में अहम भूमिका निभाएगी। नायब सैनी को पार्टी के शीर्ष नेताओं का आशीर्वाद भी प्राप्त है। नायब सैनी की मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नजदीकियों में गिनती की जाती है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ नजदीकी ही नायब सैनी को टिकट दिलाने में काफी मददगार साबित हुई। संसदीय क्षेत्र में उनका कोई विरोध नहीं है, बल्कि भाजपा कार्यकर्ता व क्षेत्र की जनता उनकी कार्यशैली से काफी प्रभावित है। नायब सैनी की कार्यशैली ही उनको टिकट दिलाने में मददगार साबित हुई है। थानेसर के विधायक सुभाष सुधा के साथ भी नायब सैनी के प्रगाढ़ संबंध हैं। सुभाष सुधा नायब सिंह सैनी की जीत को सुनिश्चित करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे। कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र से पांच बार सैनी समुदाय के प्रत्याशियों को जीत नसीब हुई है। दो बार कैलाशो सैनी, एक बार मनोहर लाल, गुरदयाल सैनी व राजकुमार सैनी को कुरुक्षेत्र से सांसद बनने का मौका मिला है। देश में जिस प्रकार से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों को लेकर लोगों में उत्साह है, उससे साफ जाहिर है कि इस बार भी कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी का चुना जाना तय है। हालांकि अभी दूसरे दलों की ओर से प्रत्याशी घोषित नहीं किए गए हैं, लेेकिन उम्मीद है कि नायब सैनी विरोधी दलों के प्रत्याशियों पर हैवीवेट प्रत्याशी साबित होंगे और एक बार फिर कुरुक्षेत्र लोकसभा से भाजपा के टिकट पर कमल खिलाने का काम करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/बाबूराम/वेदपाल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image