Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 22:29 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

प्रियंका ने कबूली यौन शोषण की बात

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 15 2019 6:31PM
प्रियंका ने कबूली यौन शोषण की बात
मुंबई, 15 अप्रैल (हि स)। पिछले साल मीटू के आंदोलन ने बालीवुड की कई हस्तियों को लपेटे में ले लिया था। विनता नंदा, तनुश्री दत्ता, संध्या मृदुल सहित फिल्मों से जुड़ी कई महिलाओं ने अपने साथ हुए यौन शोषण के मामलों को उजागर किया था। इन मामलों से फिल्म इंडस्ट्री में भूकंप आ गया था और साजिद खान, आलोकनाथ नाना पाटेकर, विकास बहल सहित कई लोगों पर इसकी गाज गिरी थी। उस वक्त ये भी महसूस किया गया था कि बालीवुड की टाप हीरोइनों ने इस मीटू को लेकर एक दूरी बनाई थी। प्रियंका चोपड़ा ने हाल ही में लास एजेंल्स में इसी टापिक पर हुई एक सेमीनार के दौरान मीटू को लेकर स्वीकार किया कि वे भी इस तरह के अनुभवों से गुजरी हैं, लेकिन उन्होंने विस्तार से नहीं बोला। प्रियंका ने एक और महत्वपूर्ण बात कही। उनका कहना था कि ये गलत है कि ऐसे मामले पिछले साल से ही सामने आना शुरु हुए। प्रियंका के अनुसार, वे एक दशक से ज्यादा लंबे वक्त से बालीवुड में काम करती रहीं और उस दौरान कई बार ऐसे मामले सामने आए, जिनको लेकर फिल्म इंडस्ट्री का समर्थन भी मिला। प्रियंका ने कहा कि पिछले साल मीडिया, खास तौर पर सोशल मीडिया पर इन मामलों को प्रमुखता मिली, जिसका दबाव फिल्म इंडस्ट्री पर देखा गया और आरोपित लोगों के खिलाफ कदम उठाए गए। प्रियंका चोपड़ा ने इस दलील को भी महत्वपूर्ण बताया कि कई मामलों में पुरानी अदावत के चलते महिलाओं की ओर से फिल्मकारों के खिलाफ आरोप लगाए गए, लेकिन कोई प्रमाण नहीं दिया गया। प्रियंका के अनुसार, इससे ये अभियान कमजोर पड़ा। उन्होंने कहा कि कई महिलाओं ने केस वापस लिए और कई महिलाएं मामलों को कोर्ट में ले जाने के फैसले से पलट गईं। प्रियंका ने कहा कि बिना सबूत आरोप लगाना भी उतना ही गलत है, क्योंकि इससे किसी पुरुष का परिवार और जीवन बिखर सकता है। प्रियंका ने कहा कि वे निजी तौर पर मानती हैं कि कई हस्तियों के खिलाफ सामने आए मामले आधारहीन थे और सिर्फ पब्लिसिटी पाने के लिए उनको सोशल मीडिया पर प्रसारित किया गया। प्रियंका ने कहा कि वे इस अभियान और महिलाओं की सुरक्षा तथा सम्मान से जुडे़ हर अभियान को हमेशा समर्थन देती रही हैं और देती रहेंगी। प्रियंका ने माना कि अब महिलाएं बालीवुड में ज्यादा सुरक्षित महसूस करती हैं, लेकिन ये जगह महिलाओं के लिए अभी पूरी तरह से सुरक्षित नहीं कही जा सकती। उन्होंने महिलाकर्मियों से इस बाबत ज्यादा जागरुक रहने की भी अपील की। pan lang="HI" style="font-size:20.0pt; font-family:"Mangal","serif";mso-fareast-font-family:"Times New Roman"; color:black" >हिन्दुस्थान समाचार/अनुज
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image