Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 19, 2019 | समय 14:18 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

चुनावी चर्चा- एकता साथ देंगी सहेली का?

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 12 2019 10:01PM
चुनावी चर्चा- एकता साथ देंगी सहेली का?
मुंबई, 12 अप्रैल (हि स)। केंद्रीय कपड़ा मंत्री और अमेठी में राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ रहीं स्मृति ईरानी की पहली पहचान अभिनेत्री के तौर पर है। अभिनेत्री के तौर पर भी उनकी सबसे बड़ी सफलता क्योंकि सास भी कभी बहू थी रही, जिसका निर्माण एकता कपूर की कंपनी बालाजी ने किया था। एकता कपूर के साथ स्मृति ईरानी के रिश्तों में उतार-चढ़ाव आता रहा है। ईरानी के कैरिअर का सबसे बड़ा सीरियल एकता कपूर ने दिया, लेकिन निजी तौर पर रिश्तों में तल्खी ऐसी आई कि बोलचाल तक बंद हो गई और दोनों तरफ से एक दूसरे के लिए तोहमतें भेजी गईं। ईरानी ने जब राजनीति में कदम रखा, तब तक दोनों के रिश्ते ठीकठाक थे, लेकिन पिछले चुनावों में जब स्मृति ईरानी ताकतवर मंत्री के तौर पर उभरीं, तो एकता कपूर ने नतमस्तक होते हुए फिर से ईरानी के गुण गाने शुरु कर दिए। यहां तक कि एकता कपूर के घर पर भतीजे का नामकरण संस्कार समारोह हुआ, तो सारे कामकाज छोड़कर स्मृति ईरानी उनके घर पंहुचीं। एकता कपूर और स्मृति ईरानी के रिश्तों की ये गाथा इसलिए चर्चा में है, क्योंकि ईरानी चुनाव मैदान में हैं और चुनाव जीतने के लिए प्रचार होता है और प्रचार में स्टारडम अहम होता है। स्टारडम का खजाना एकता कपूर के पास है और उनसे उम्मीद की जा रही है कि वे अपनी सहेली ईरानी के चुनाव प्रचार के लिए अमेठी में सितारों की फौज लगा देंगी। उम्मीद तो अपनी जगह है, लेकिन इस बारे में एकता कपूर की कंपनी के एक बड़े पर पर आसानी अफसर ने दिलचस्प बात कही। उन्होंने पहले तो सवाल किया कि क्या ईरानी ने पिछले चुनावों में एकता कपूर से प्रचार के लिए मदद मांगी थी और नहीं मांगी थी तो अब इसकी जरुरत क्यों पड़ेगी। दूसरी बात उन्होंने कही कि दोनों के बीच निजी रिश्ते बहुत अच्छे हैं और छोटे मोटे काम के लिए दोनों एक दूसरे को परेशान नहीं करेंगे। स्मृति ईरानी के लिए प्रचार करना क्या छोटा मोटा काम है? हिन्दुस्थान समाचार/अनुज
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image