Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, जुलाई 22, 2018 | समय 08:11 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

फिल्म ''नानकशाह फकीर'' की रिलीज रोकने से इनकार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 16 2018 4:28PM
फिल्म 'नानकशाह फकीर' की रिलीज रोकने से इनकार
नई दिल्ली, 16 अप्रैल (हि.स.)। सुप्रीम कोर्ट ने शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की फिल्म नानकशाह फकीर को रिलीज करने से रोकने से फिर इनकार कर दिया है। कोर्ट ने फिल्म के प्रोड्यूसर को नोटिस जारी कर 8 मई तक जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। आज सुनवाई के दौरान जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा कि कोई भी धर्म में नहीं कह सकता कि उसकी पुस्तक ही उसके धर्म की व्याख्या करती है। इसलिए दूसरे को उस पर लिखने का हक नहीं है। ऐसा हमारे संविधान के धर्मनिरपेक्ष मूल्यों के खिलाफ होगा। सुनवाई के दौरान वरिष्ठ वकील पीएस पटवालिया ने कहा कि सिख धर्म में मनुष्यों द्वारा गुरुओं के रुप में दिखाने की मनाही है। तब वकील आरएस सूरी ने कहा कि एक मनुष्य पहले मनुष्य है उसके बाद वह सिख, हिन्दू या मुसलमान है। तब चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि एक्टर को गुरु का अभिनय करने दीजिए। पिछले 10 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने इस फिल्म की रिलीज को हरी झंडी दे दी थी। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के बाद शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर इस फैसले को वापस लेने की मांग की थी। कोर्ट ने केंद्र और सभी राज्यों को निर्देश दिया था कि वो 13 अप्रैल को फिल्म को देश के सभी राज्यों में रिलीज होने दें और सुनिश्चित करें कि किसी प्रकार की हिंसा न हो। फिल्म के प्रोड्यूसर और वाइस एडमिरल हरिंदर सिंह सिक्का की ओर से पेश वकील आरएस सूरी ने कहा था कि शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के कुछ संशोधनों के साथ सेंसर बोर्ड ने फिल्म को सर्टिफिकेट दे दिया है। तब चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा था कि जब सेंसर बोर्ड ने सर्टिफिकेट दे दिया है तो ये फाइनल है और अब उसे दिखाने पर कोई बाधा नहीं डाल सकता है। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की आलोचना करते हुए कोर्ट ने कहा था कि कोई व्यक्ति या कोई कमेटी इस फिल्म की रिलीज पर कैसे बाधा खड़ी कर सकता है। एक बार जब सर्टिफिकेट मिल गया तो जब तक उच्च प्राधिकार द्वारा उसे शून्य करार नहीं दिया जाए तब तक फिल्म के प्रोड्यूसर को ये हक है कि वो सिनेमा हॉल में फिल्म का प्रदर्शन करे। 2015 में बनी फिल्म के कुछ दृश्यों पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने ऐतराज जताया था। इसके बाद से ही फिल्म विवादों में चल रही है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/राधा रमण
image