Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 20, 2018 | समय 23:31 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

चर्च की चुप्पी पर हो रही हैं चर्चाएं

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 6 2018 5:45PM
चर्च की चुप्पी पर हो रही हैं चर्चाएं

संजीव

आईजोल। पूर्वाेत्तर के राज्यों में अपना खासा असर रखने वाला चर्च मिजोरम विधानसभा चुनाव में रहस्यमय ढंग से चुप्पी साधे हुए है। मिजोरम की 87 फीसदी आबादी ईसाई है, इसलिए यहां की राजनीति में चर्च एक महत्वपूर्ण भूमिका में है, यही कारण है कि चर्च के विरोधी रुख के कारण पांच बार चुनाव  लड़ चुकी भाजपा अभी तक एक भी सीट जीतने में कामयाब नहीें हो पाई है।

हालांकि इस साल फरवरी मेें चकमा स्वायत्त जिला परिषद के चुनावो में पार्टी ने 20 में से पांच सीटें जीती थीं। इससे पता चलता है कि इस राज्य में भी भाजपा का आधार धीरे-धीरे ही सही,लेकिन बढ़ रहा है। यह पहला ऐसा विधानसभा चुनाव है जिसमें चर्च की ओर से अभी तक कोई न कोई बयान आया है, न ही कोई गतिविधि हो रही है। जिससे उसके रुख को लेकर कोई अनुमान लगाया जा सके। उसकी ओर से भाजपा के खिलाफ भी कोई टीका-टिप्पणी नहीं की गई है। भाजपा पूर्वोत्तर के तीन ईसाई बहुल राज्यों में से दो मेघालय और नगालैंड में पहले से ही सत्ता में साझीदार है। अब तीसरे गढ़ मिजोरम में उससे फतह हासिल करनी है। 

हिन्दुवादी राजनीति का मुखर विरोधी रहा है चर्च

राजनीतिक विश£ेषकों की मानें तो चर्च हमेशा से भाजपा की हिन्दुवादी राजनीति का मुखर विरोधी रहा है। मिजोरम के साथ-साथ नगालैंड व मेघालय में सरकारी तंत्रों और राजनीति पर चर्च का अच्छा असर है। इतना ही नहीं, राज्य के कई ऐसे संगठन भी हैं, जिनकी छवि भाजपा विरोधी है। 

विकास का एजेंडा लेकर आई है भाजपा

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष जे.वी. लूना की मानें तो पार्टी का एजेंडा हिन्दुत्व नहीं, बल्कि विकास है। पार्टी को चर्च को अपनी नीतियों को समझाने में खासी मेहनत लगानी पड़ रही है। यह पहला ऐसा चुनाव है, जहां चर्च खुलेआम भाजपा का विरोध करता नजर नहीं आ रहा है। लूना ने उम्मीद जताई कि पार्टी चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करेगी। 

दो पादरियों को भी दिया है टिकट

भाजपा ने 28 नवंबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव में दो पादरियों को टिकट दिया है। इनमें आईजोल पश्चिम-2 से एल आर कोलनी और लुंगलेई पूर्व सीट से एच लालरुआता को उतारा गया है। ये दोनों उम्मीदवार चर्च में पादरी हैं। स्थानीय स्तर पर इनका अच्छा खासा प्रभाव है। 

-हिन्दुस्थान समाचार

image