Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 11:11 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

2003 में कांग्रेस शासन के समय प्रदेश की क्या स्थिति थी हर व्यक्ति को पता है : विजयवर्गीय

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 22 2018 9:20PM
2003 में कांग्रेस शासन के समय प्रदेश की क्या स्थिति थी हर व्यक्ति को पता है : विजयवर्गीय

भोपाल, 22 अक्‍टूबर (हि.स.)। समृद्ध मध्यप्रदेश अभियान को प्रदेश की जनता पूरे उत्साह के साथ भागीदारी कर रही है। प्रदेश की जनता पूरी सक्रियता के साथ प्रदेश को विकास और समृद्धि के रास्ते पर ले जाने वाले इस अभियान से जुड़ना चाह रही है। यही वजह है कि अभियान के पहले ही दिन लोगों ने 20705 सुझाव भेजे हैं। किसी ने इसके लिए फोन लगाया, तो किसी ने व्हाट्सएप या वेबसाइट पर अपना संदेश देकर सुझाव दर्ज कराया। यह बात सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने पत्रकार वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अधिकतर विधानसभा क्षेत्रों में इस अभियान के लिए प्रदेश कार्यालय से रवाना किए गए डिजिटल रथों ने काम करना शुरू कर दिया है।

पत्रकारों से चर्चा करते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार को जो मध्यप्रदेश मिला था, वह एक बीमारू प्रदेश था। इसे शिवराजसिंह जी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने विकसित मध्यप्रदेश बनाया। अब सरकार इसे समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने के प्रयास कर रही है। श्री विजयवर्गीय ने कहा कि सामान्य तौर पर मतदान करने के बाद प्रजातंत्र में मतदाता की भूमिका समाप्त हो जाती है, सरकार के संचालन में उसकी प्रत्यक्ष भूमिका नहीं होती, लेकिन समृद्ध मध्यप्रदेश अभियान के जरिए मध्यप्रदेश के मतदाताओं को भविष्य की सरकार के संचालन में भागीदारी का अवसर मिल रहा है। 
इस अभियान के माध्यम से प्रदेश के करोड़ों लोग यह बताएंगे कि अगली सरकार से प्रदेश के विकास और समृद्धि के लिए उनकी क्या अपेक्षाएं होंगी। श्री विजयवर्गीय ने बताया कि प्रदेश के सभी क्षेत्रों में लोग उत्साहपूर्वक इस अभियान में भागीदारी कर रहे हैं। अभियान के पहले ही दिन विभिन्न क्षेत्रों से करीब 13058 फोन कॉल आए। इसके अलावा व्हाट्सएप पर 4064 तथा वेबसाइट पर 617 मैसेज मिले। समृद्ध मध्यप्रदेश प्रतियोगिता में 1022 लोगों ने भागीदारी की एवं समृद्ध मध्यप्रदेश एंबेसडर नेटवर्क पर 1944 लोगों ने संपर्क किया। इस अवधि में वेबसाइट पर कुल 60031 यूजर्स आए।
उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा ‘समृद्ध मध्यप्रदेश’ अभियान को आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए निर्वाचन आयोग से इसकी शिकायत की गई है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी निर्वाचन आयोग का पूरा सम्मान करती है। विजयवर्गीय ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वर्ष 2003 में कांग्रेस शासन के समय प्रदेश की स्थिति क्या थी, यह बात प्रदेश के हर व्यक्ति को पता है। आज प्रदेश में सरप्लस बिजली है, गांव-गांव तक अच्छी सड़कें हैं, प्रति व्यक्ति आय बढ़कर 80,000 रुपए तक पहुंच गई है। ऐसे में अगर प्रदेश के लोगों से प्रदेश को विकास के रास्ते पर और आगे ले जाने के, प्रदेश को समृद्ध बनाने के लिए सुझाव मांगे जा रहे हैं, तो इसमें क्या बुराई है। विजयवर्गीय ने कांग्रेस द्वारा इस संबंध में निर्वाचन आयोग से शिकायत किए जाने को दुखद बताया।
उन्‍होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा को प्रदेश में अभूतपूर्व समर्थन मिल रहा है। उन्होंने महू और इंदौर में जनआशीर्वाद यात्रा में उमड़ी भीड़ को अभूतपूर्व बताते हुए कहा कि देर रात लोग मुख्यमंत्री का इंतजार करते रहे। उन्होंने कहा कि रविवार को मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा इंदौर शहर में थी। 
इस दौरान यात्रा नगर के सातों विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरी। विजयवर्गीय ने बताया कि हर विधानसभा में मुख्यमंत्री का जोरदार स्वागत किया गया। उन्होंने बताया कि रास्ते में मुख्यमंत्री का स्वागत और पुष्प वर्षा तो लगातार चलते रहे, इसके अलावा पूरे शहर में 600-700 स्वागत मंच बनाए गए थे। इन मंचों पर भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया। विजयवर्गीय ने बताया कि इंदौर में मुख्यमंत्री के रोड शो और सभाओं के दौरान लाखों लोगों की भीड़ मौजूद रही।
 
बूथ की मजबूती के लिए करेंगे कार्यकर्ताओं का उपयोग
पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल जी ने सोमवार को प्रदेश कार्यालय में पार्टी की चुनाव प्रबंधन टीम की बैठक ली। इस बैठक की जानकारी देते हुए राष्ट्रीय महासचिव विजयवर्गीय ने बताया कि इस बैठक का आयोजन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के निर्देश पर चुनाव के लिए कार्ययोजना बनाने के उद्देश्य से किया गया था। 
बैठक में इस बात पर विचार किया गया कि प्रदेश के प्रत्येक बूथ की मजबूती के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं का अधिकतम उपयोग किस प्रकार किया जाए। इसके अलावा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एवं अन्य केंद्रीय नेताओं के मध्यप्रदेश में दौरे तथा अन्य कार्यक्रमों पर भी विचार किया गया। इसकी योजना बनाने की जिम्मेदारी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा को दी गई है। 
हिन्‍दुस्‍थान समाचार/राजू/मयंक
image