Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 15:51 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

28 नवंबर से पहले कांग्रेस संतरे की एक-एक कली की तरह बिखर जाएगी : प्रभात झा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 23 2018 5:27PM
28 नवंबर से पहले कांग्रेस संतरे की एक-एक कली की तरह बिखर जाएगी : प्रभात झा
भोपाल, 23 अक्‍टूबर (हि.स.)। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं सांसद प्रभात झा ने कहा कि कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने अपने जनसंपर्क अभियान पर निकलने के दौरान जिस तरह से कांग्रेस पार्टी को लेकर नकारात्मक बातें कही हैं उससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि कांग्रेस की क्या हालत अंदर से होगी ।
उन्होंने कहा कि मैं आज आपको बता रहा हूं कि मतदान के पूर्व देखिएगा मतदान के दिन मत देखिएगा 28 नवंबर से पहले संतरे की तरह दिखने वाली कांग्रेस एक-एक कली की तरह बिखर जाएगी । कांग्रेस जो नाटक एकजुटता का  कर रही है उसका विकृत रूप आपने हाल ही में जीतू पटवारी की बातों में देखा है।
उन्होंने कहा कि जीतू पटवारी के बारे में कहूं या कहना चाहिए कि राजनीति में जो सेवा का भाव होना चाहिए वह कांग्रेसियों से कोसों दूर है । पटवारी जो अपनी ही पार्टी के बारे में इस तरीके की बात कह सकते हैं कि कांग्रेस पार्टी गई तेल लेने, अब भैया कहां रहेगा ? इसलिए कांग्रेसियों के लिए मैं कहता हूं कि कांग्रेस पार्टी है ही नहीं वहां तो अपना अपना तेल और पानी लेकर अपने लिए काम हो रहा है। 
 
उधर, कंप्यूटर बाबा को लेकर और उनकी नाराजगी पर पूछे गए सवाल के जवाब में उपाध्यक्ष एवं सांसद भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रभात झा ने कहा कि बाबा समाज के काम करते हैं उन्हें आशीर्वाद देते हैं और समाज को प्रेरणा देकर उसे आगे बढ़ाते हैं । अभी कंप्यूटर बाबा की नाराजगी किस बात पर है सीएम साहब को लेकर या कोई और बात, इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता । कल आपने देखा कि किस तरह सीएम शिवराज का सम्मान हुआ है और वहां जिस तरीके से सभी ने एकजुटता के साथ संतों ने कहा कि यदि कोई इस प्रदेश का विकास करने में अब तक पूरी तरह सफल रहा है तो वह शिवराज सिंह चौहान है और इसलिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में दोबारा वे ही वास्तव में इस प्रदेश को चाहिए । उनका विकास आज पूरा देश देख रहा है कि कितने सफल तरीके से उन्होंने मध्य प्रदेश को आगे बढ़ाया है। 
 
एक अन्य प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि जेटली जी को लेकर जो आरोप  कांग्रेस लगा रही है, उसमें कोई दम नहीं है। यदि वास्तव में किसी को सीखना है तो आर्थिक स्थिति के बारे में आज श्री जेटली के जीवन से सीख सकता है क्योंकि वे अपने रसोइये,  ड्राइवर से लेकर किसी अन्य को भी पेमेंट करना होता है तो चेक से ही करते हैं , आर्थिक शुचिता का इससे अच्छा अन्य कोई उदाहरण नहीं मिल सकता है। 
 
हिन्‍दुस्‍थान समाचार /मयंक /राजू
image