Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 20, 2018 | समय 23:22 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

विधानसभा चुनाव के लिए 2436 मतदान कर्मी हुए प्रशिक्षित

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 13 2018 4:21PM
विधानसभा चुनाव के लिए 2436 मतदान कर्मी हुए प्रशिक्षित

बड़वानी, 13 अक्‍टूबर (हि.स.) । विधानसभा निर्वाचन में लगे पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारी क्रमांक 1 का प्रशिक्षण शनिवार से जिले में प्रारंभ हो गया है। इस प्रशिक्षण के प्रथम दिन शहीद भीमा नायक शासकीय महाविद्यालय बड़वानी में विधानसभा क्षेत्र बड़वानी एवं राजपुर के 2436 कर्मियो को प्रशिक्षित किया गया। प्रशिक्षित कर्मियों में 1113 कर्मी पीठासीन अधिकारी के रूप में तो 1312 कर्मी मतदान क्रमांक-1 के रूप में प्रशिक्षित हुये है। 

इस विधानसभा निर्वाचन में बनने वाले पांच प्रतिशत पिन्क मतदाता बूथ के लिये प्रथम चरण के प्रशिक्षण में 692 महिला कर्मियो को भी प्रशिक्षित किया गया। द्वितीय दिवस के प्रशिक्षण में 366 महिला कर्मी प्रशिक्षित होंगी। प्रशिक्षित यह महिला कर्मी मतदान के दिन पिन्क बूथ पर पिन्क ड्रेस पहनकर मतदान पार्टी के रूप में अपनी सेवाए देंगी। प्रशिक्षण के दौरान मतदान कर्मियों को दी जाने वाली सामग्री जैसे-इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन, वीवीपैठ मशीन, निविदत्त मतपत्र, मतदाताओं का रजिस्टर, निर्वाचन नामावली की चिहिन्त प्रतियॉ, पीठासीन अधिकारी की डायरी, मतपत्र लेखा प्रारूप, नामावली की अतिरिक्त प्रतियॉ, ग्रीन पेपर सील, स्ट्रीप सील, संविधिक प्रारूप, सिलिंग बैक्स, अमिट स्याई का मिलान करना बताया गया। 

इसी तरह मतदान केन्द्र पर एक दिन पूर्व की जाने वाली व्यवस्था एवं मतदान केन्द्र के 100 मीटर की परिधि में जाने वाली व्यवस्थाऐं, पीठासीन अधिकारी एवं अन्य कर्मियो के कार्य व अधिकार, किस प्रकार मॉकपोल करके दिखाया जायेगा, मतदाता की पहचान किस प्रकार सुनिश्चित करते हुये उससे मतदान कराया जायेगा, घटना-दुर्घटना, मतदान का प्रतिशत किस प्रकार एसएमएस के माध्यम से भेजा जायेगा, निर्धारित समय पश्चात् भी मतदान केन्द्र पर लगी मतदाताओं की लाईन  में पीछे से पर्ची वितरित की जायेगी, मतदान समाप्ति के पश्चात् किस प्रकार ईवीम एवं वीवीपैठ को मोहर बंद कर स्ट्रॉग रूम में जमा कराया जायेगा, मतदान के दिन मतदान केन्द्रो में मतदाता के अलावा कौन-कौन से लोग प्रवेश कर सकेंगे उनके पास कौन से दस्तावेज होना आवश्यक है, मतदाता की पहचान किस प्रकार की जायेगी, सूरदास एवं निःशक्त मतदाता किस प्रकार मतदान कर सकेंगे आदि के बारे में विस्तार से बताया गया। 

प्रशिक्षण के दौरान मतदान कर्मियों को ईवीएम मशीन पर प्रेक्टिकल भी करवाया गया। जिसमें उन्हें नियंत्रण यूनिट को मतदान यूनिट एवं वीवीपैठ से जोड़ना, दिखावटी मतपत्र करके दिखाना, पुनः मशीन को रिक्त करके सील करना, किस प्रकार मतदाता के मतदान करने के उपरान्त बीप की आवाज सुनाई देगी एवं लालबत्ती बंद हो जायेगी, मतदान समाप्ति के पश्चात् ईवीएम को सील किया जायेगा,  इसके बारे में विस्तार से बताया गया।

बता दें कि द्वितीय दिवस यानि रविवार 14 अक्टूबर को होने वाले प्रशिक्षण में विधानसभा सेंधवा एवं पानसेमल के 1266 कर्मियों को प्रशिक्षित किया जायेगा। इसमें 475 कर्मी पीठासीन अधिकारी के रूप में तो 791 कर्मी मतदान अधिकारी क्रमांक-1 के रूप में प्रशिक्षित होंगे।  द्वितीय दिवस का प्रशिक्षण भी बड़वानी में ही आयोजित किया जायेगा। 

हिन्‍दुस्‍थान समाचार / उमेद 

image