Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 01:33 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

आजम खान के बयान पर महिला आयोग ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 15 2019 9:30PM
आजम खान के बयान पर महिला आयोग ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र
नई दिल्ली, 15 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली महिला आयोग ने सोमवार को समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान द्वारा जयाप्रदा के लिए की गई अपमानजनक टिप्पणी पर संज्ञान लेते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को पत्र लिखा है। महिला आयोग ने ऐसे नेताओं के खिलाफ कड़े कदम उठाने की मांग की है जो सार्वजनिक स्थान पर महिलाओं के लिए अपमानजनक टिप्पणियां करते हैं। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने चुनाव आयोग से आदर्श आचार संहिता में बदलाव कर ऐसे प्रावधान लाने की मांग की जिससे कोई भी दल या व्यक्ति लिंगभेदी बयान न दे। साथ ही महिलाओं के सम्मान को ठेस पहुंचाने वाले बयानों पर भी कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने सुझाव दिया कि अगर कोई उम्मीदवार या राजनीतिक दल का सदस्य आचार संहिता का उल्लंघन करे तो उसको वर्तमान चुनाव में भाग लेने पर रोक लगा दी जाए। साथ ही ऐसे मामलों में आयोग तुरंत एफआईआर दर्ज करवाए और वह व्यक्ति तुरंत गिरफ्तार हो। दिल्ली महिला आयोग ने पत्र में कहा है कि 2017 में बेंगलुरु छेड़छाड़ मामले में महाराष्ट्र के विधायक अबू आज़मी ने कहा था कि छोटे कपड़े पहनने वाली लड़कियां और बाहर खुलेआम घूमने वाली लड़कियां बलात्कार को आमंत्रण देती हैं। उस समय दिल्ली महिला आयोग ने एफआईआर दर्ज करवाई थी लेकिन मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई थी। स्वाति मालीवाल ने कहा कि राजनीतिक क्षेत्र में जिम्मेदार पदों पर बैठे व्यक्तियों को महिलाओं के खिलनजनक टिप्पणी करने पर बंदिश लगाई जानी चाहिए। आदर्श आचार संहिता ऐसी किसी भी गतिविधि पर बंदिश लगाती है जिससे जाति, समाज, भाषा या धर्म के नाम पर तनाव बढ़े या पैदा हो। इसमें ऐसा कोई भी प्रावधान नहीं है जिससे महिलाओं के खिलाफ गलतबयानी, लिंगसूचक बयानों पर रोक लगे। दिल्ली महिला आयोग यह उम्मीद करता है कि चुनाव आयोग इन सुझावों पर जल्द से जल्द अमल करेगा। हिन्दुस्थान समाचार/रवि/आकाश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image