Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 13:37 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

टिकटैक वीडियो बनाने के बहाने हत्या करने का शक, एक दिन पहले खरीदी पिस्टल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 15 2019 5:14PM
टिकटैक वीडियो बनाने के बहाने हत्या करने का शक, एक दिन पहले खरीदी पिस्टल
नई दिल्ली, 15 अप्रैल (हि.स.)। नई दिल्ली जिले के बाराखंबा इलाके स्थित रंजीत सिंह फ्लाइओवर के समीप शनिवार रात कार सवार युवक की गोली मारकर हत्या के मामले में पुलिस को शक है कि ‘टिकटैक’ वीडियो बनाने का बहाना कर युवक की हत्या की गई। दरअसल दोस्तों द्वारा ‘टिकटैक’ वीडियो बनाने की बात की जांच करने पर पुलिस के हाथ ऐसा कोई वीडियो लगा ही नहीं। वहीं जिस .9 एमएम पिस्टल का इस्तेमाल इस वारदात में हुआ, जिसे एक दिन पहले ही गोली चलाने वाले आरोपित सोहेल ने दो लाख रुपये में खरीदा था। यह खुलासा सोमवार दोपहर मामले की जांच से जुड़ी बाराखंबा पुलिस ने किया। पुलिस ने बताया कि बरामद पिस्टल न्यू जाफराबाद निवासी जिस युवक से खरीदने की बात सामने आई है, पुलिस अब उस आरोपित की तलाश कर रही है। घटना के दो दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस हत्या का कारण साफ नहीं कर पाई है। पुलिस इस मामले में पकड़े गए तीनों आरोपितों से लगातार पूछताछ कर रही है। जिन तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है, उसमें से सोहेल को हत्या के आरोप में पुलिस ने दबोचा गया है। जबकि आमीर और शरीफ से नाम के आरोपितों को पुलिस ने साक्ष्य से छेड़छाड़ करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। इन पर पिस्टल व कपड़े छिपाने का भी आरोप है। इनकी निशानदेही पर पुलिस ने पिस्टल व कपड़े न्यू जाफराबाद इलाके से बरामद भी कर लिए हैं। पुलिस अब इन आरोपियों की कॉल डिटेल रिकॉर्ड(सीडीआर) निकाल रही है, ताकि इनके करीबी नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों से भी पूछताछ कर हत्या के सही कारणों का पता लगा सके। त्रिकोणिय प्रेमप्रसंग को लेकर शक उधर मामले की जांच कर रही टीम की अगुवाई करने वाली टीम के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग को ध्यान में रखते हुए भी जांच आगे बढ़ाई जा रही है। दअरसल अबतक की जांच में यह बात भी सामने आई कि इस त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग के केंद्र में न्यू जाफराबाद व दरियागंज निवासी दो युवतियां बताई जा रही हैं। हालांकि पुलिस ने कहा कि जबतक हम किसी नतीजे पर नहीं पहुंच जाते, तबतक इसके बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। सोहेल के पिता ले गए थे अस्पताल पुलिस के अनुसार जब सलमान को गोली लग गई तो सोहेल व आमीर (ममेरे-फुफेरे भाई) उसे लेकर सीधे दरियागंज गए, जहां सोहेल के पिता रिश्तेदारी में आए थे। यहां जब सोहेल के पिता अकरम को घटना की जानकारी दी। इसके बाद जिस क्रेटा कार में गोली चली थी उसे सलमान सहित छोड़कर वहां से दूसरी कार में बैठकर फरार हो गए। सोहेल के पिता सलमान को लेकर एलएनजेपी अस्पताल में पहुंचे, जहां से पुलिस को घटना की जानकारी दी गई। क्या रहा वारदात का घटनाक्रम 19 वर्षीय सलमान और उसके दोस्त सोहेल और आमीर रंजीत सिंह फ्लाइओवर पर पहुंचे तो गोली चली, जिसमें सलमान की मौत हो गई। सोहेल द्वारा पुलिस को दिए गए बयान के मुताबिक सलमान कार चला रहा था, जबकि वह उसके बगल में बाईं तरफ बैठा था, वहीं आमीर पीछे बैठा था। इस दौरान उसे टिकटैक वीडियो सलमान के साथ बनाना था, जबकि आमीर को पीछे से रिकॉर्ड करना था लेकिन अचानक कार उछली तो गोली चल गई, जो सलमान को जा लगी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी/आकाश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image