Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 15:53 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राफेल सौदे के जरिए अंबानी की कंपनी को फ्रांस में कर राहत मिला : कांग्रेस

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 13 2019 4:13PM
राफेल सौदे के जरिए अंबानी की कंपनी को फ्रांस में कर राहत मिला : कांग्रेस
नई दिल्ली, 13 अप्रैल (हि.स.)। कांग्रेस ने शनिवार को फ्रांस में अनिल अंबानी की कंपनी को कर संबंधी राहत मिलने से जुड़ी खबर को लेकर एक बार फिर केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पार्टी ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने अप्रत्यक्ष रूप से राफेल युद्धक विमान सौदा मामले में अनिल अंबानी की कंपनी को लाभ पहुंचाया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि फ्रांस में अनिल अंबानी की कम्पनी ''रिलायन्स अटलांटिक फ्लैग फ्रांस'' (आरएएफएफ) कार्यरत है। 2007-10 के बीच में आरएएफएफ को 60 मिलियन यूरो का कर भुगतान करना था। कंपनी ने कहा कि वह सात मिलियन यूरो ही दे सकती है। 2010-12 में 91 मिलियन यूरो कर उन पर और लगाया गया। कर प्राधिकरण ने लगभग 150 मिलियन यूरो में से साढ़े सात मिलियन यूरो देने की उनकी पेशकश खारिज कर दी। 10 अप्रैल को प्रधानमंत्री मोदी फ्रांस जाकर 36 जहाज खरीदने की घोषणा करते हैं। इसके बाद फ्रांस सरकार अनिल अंबानी की कंपनी के कर को माफ कर देती है। सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या राफेल घोटाले में भ्रष्टाचार की मनी ट्रेल सामने आ गई? क्या मोदी अपने मित्र अनिल अंबानी के लिए मिडिल मैन का काम कर रहे हैं? क्या फ्रांस सरकार ने अनिल अंबानी की 143 मिलियन यूरो की टैक्स लायबिलिटी माफ कर दी है? सुरजेवाला ने कहा कि 2017-18 में अनिल अंबानी की ‘ज़ीरो सम कंपनी’ में दसॉल्ट एविएशन ने 284 करोड़ डाल देती है। इस कम्पनी का नाम था रिलायंस एयरपोर्ट डेवलपर लिमिटेड। यह तब हो रहा था जब भारत सरकार दसॉल्ट एविएशन को एडवांस पेमेंट कर रही थी। सुरजेवाला ने कहा कि 21 सितम्बर,2018 को फ्रांस के तत्कालीन राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने कहा था कि उनके पास पास कोई विकल्प नहीं था। प्रधानमंत्री मोदी के कहने पर ही अनील अंबानी की कंपनी को काम दिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/आशुतोष/आकाश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image