Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 13:50 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

स्वास्थ्य और शिक्षा के मामले में केजरीवाल सरकार पूरी तरह विफल : विजेंद्र गुप्ता

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 10 2019 8:42PM
स्वास्थ्य और शिक्षा के मामले में केजरीवाल सरकार पूरी तरह विफल : विजेंद्र गुप्ता
नई दिल्ली, 10 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार के चार वर्ष से भी अधिक समय तक सत्ता में रहने के दौरान शिक्षा तथा स्वास्थ्य के क्षेत्र में दिल्ली बुरी तरह पिछड़ गई है। उन्होंने तथ्य प्रस्तुत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया तथा स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन के बड़े-बड़े दावे झूठे हैं। अपना आधा बजट इन दो क्षेत्रों में खर्च करने के बाद भी हकीकत यह है कि सरकार शिक्षा तथा स्वास्थ्य का स्तर सुधारने और इन आधारभूत सेवाओं को जन-जन तक पहुंचाने में बुरी तरह विफल रही है। केजरीवाल ने वादा किया था कि जब हम सत्ता में आएंगे तो दिल्ली ने अंदर 500 नए स्कूल का खोलेंगे, जोकि पूरा नहीं किया। भाजपा नेता ने यह बातें पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर बुधवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में कहीं। विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल पर हमला करते हुए कहा कि केजरीवाल बार-बार लोगों से यह कहते आ रहें है कि डीडीए ने हमें जमीन नहीं दी इसलिए हम स्कूल नहीं खोल पा रहे। जबकि सच्चाई कुछ और है, जब केजरीवाल सत्ता में आए थे तब उनके पास डीडीए के 82 प्लाट थे, जिस पर आज तक सरकार की तरफ से कोई भी काम नहीं हुआ है। गुप्ता ने बताया कि जब उन्होंने सरकार से सवाल पूछा था कि दिल्ली में कितने नए कॉलेज बनाए जाने है तब सरकार से साफ मना कर दिया था। सरकार की तरफ से कहा गया था कि अभी दिल्ली में कोई नए कॉलेज खोलने की योजना नहीं है। बेहतर शिक्षा को लेकर केजरीवाल द्वारा किए गए वादों पर तंज कसते हुए विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने पिछले चार सालों में एक भी नया स्कूल नहीं खोला, सिर्फ स्कूल के कमरों का निर्माण कराया। आठ हजार कमरों के निर्माण में 1400 करोड़ रुपये खर्च कर दिए। भाजपा नेता ने कहा कि इसी प्रकार स्वास्थ्य के मामले में भी केजरीवाल के सभी वादे झूठे साबित हुए हैं। पिछले चार सालों में दिल्ली के अंदर एक भी नया अस्पताल नहीं खुला। ना ही स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा कोई ठोस कदम उठाया गया। हां इतना जरूर किया गया कि केन्द्र सरकार की लाभकारी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत को दिल्ली में लागू न करके जनता को उसके लाभ से दूर रखा गया। हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन/आकाश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image