Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 05:43 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

पूर्व कर्मचारी ने साले के साथ ढाई करोड़ की वसूली करने की कोशिश की, दोनों गिरफ्तार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 8 2019 7:15PM
पूर्व कर्मचारी ने साले के साथ ढाई करोड़ की वसूली करने की कोशिश की, दोनों गिरफ्तार
नई दिल्ली, 08 अप्रैल (हि.स.)। उत्तर पश्चिमी जिले के मॉडल टॉउन इलाके में एक कारोबारी से उसी के पूर्व कर्मचारी ने ढाई करोड़ की वसूली करने की कोशिश की। साजिश में पूर्व कर्मचारी ने अपने साले का भी साथ लिया था। उत्तरी-पश्चिम जिले की स्पेशल स्टॉफ ने जीजा साले को गिरफ्तार किया है। आरोपितों की पहचान अमन तिवारी और अमन कुमार झा के रूप में हुई है। आरोपितों के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल मोबाइल फोन और सिमकार्ड बरामद किये गए हैं। उत्तर पश्चिमी जिले की डीसीपी विजिंता आर्या के अनुसार पांच अप्रैल को मॉडल टॉउन इलाके में रहने वाले शिकायतकर्ता कारोबारी हरीश मित्तल ने पुलिस को बताया कि उन्हें अनजान नंबर से फोन आया था। कॉलर ने उससे पहले 50 लाख रुपये मांगे थे। नहीं देने पर उसे जान से मारने की धमकी दी थी। इस बारे में जब उसने अपने करीबी दोस्त अजय चौहान से बात कराई। कॉलर को उन्होंने इतनी बड़ी रकम नहीं होने की बात कही। कॉलर ने बात करने के बाद वसूली की रकम ढाई करोड़ कर दी। कॉलर ने पुलिस को बताने से मना किया था। पुलिस ने केस दर्ज किया। स्पेशल स्टॉफ को भी जांच में शामिल किया। जांच टीम ने शिकायतकर्ता के कर्मचारियों, ड्राइवर और घर में काम करने वालों के फोन नंबरों की कॉल डिटेल को खंगाली। इसमें आरोपित के बारे में कोई सबूत हाथ नहीं लगा। शिकायतकर्ता से उसके पूर्व कर्मचारियों और उन रिश्तेदारों की भी लिस्ट मांगी गई, जो पिछले कुछ समय से आर्थिक स्थिति से जूझ रहे हैं। सभी की गहन तरीके से जांच की गई। उस नंबर को भी खंगाला गया, जिससे कॉल आई थी। कॉलर की कॉल लोकेशन जमशेदपुर झारखंड आई। एक टीम को मौके पर भेजा गया जबकि तीन से चार पुलिस वालों को सादे कपड़ों में शिकायतकर्ता के मकान के आसपास तैनात किया गया। सिम कार्ड की जांच करवाने पर पता चला कि दोनों को जमशेदपुर में हैं। पुलिस टीम ने तुरंत दोनों को गिरफ्तार किया। दोनों से पूछताछ करने पर पता चला कि अमन तिवारी अमन कुमार झा का साला है। 12वीं पास है पूर्व कर्मचारी पुलिस के अनुसार अमन कुमार झा 12वीं पास है। उसने दिल्ली और झारखंड में कई कंपनियों में ग्राफिक डिजाइनर की नौकरी की है। शिकायतकर्ता हरीश मित्तल की लारेंस रोड स्थित कंपनी में भी एक महीने नौकरी की थी। अमन को कंपनी और उसके घर के बारे में काफी ज्यादा जानकारी थी। पिछले कुछ समय से अमन आर्थिक स्थिति से जूझ रहा था। उसकी पत्नी भी अपने मायके में रह रही थी। उसने अपने साले अमन के साथ मिलकर हरीश के पास फोन कर वसूली मांगने की साजिश रची। इसमें अमन तिवारी को मोटी रकम देने का वादा किया था। वारदात के बाद आरोपितों ने न तो सिमकार्ड बंद किया था और न ही मोबाइल फोन को बंद किया था। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी शर्मा /दधिबल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image