Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 01:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

दो सौ करोड़ की हेरोइन के साथ चार आरोपित गिरफ्तार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 8 2019 7:17PM
दो सौ करोड़ की हेरोइन के साथ चार आरोपित गिरफ्तार
नई दिल्ली, 08 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 200 करोड़ रुपये की हेरोइन के साथ चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों की पहचान गांव बिबियापुर, कोठी, बाराबंकी, यूपी निवासी मोहम्मद सूफियान (31), गांव बुडवाल, हैदरगढ़, बाराबंकी निवासी मोहम्मद इस्माइल (49), बेगूसराय, बिहार निवासी मनोज कुमार दास (50) और गांव उठेलावा, कमरौली, अमेठी, यूपी निवासी हाशिम उर्फ नेता (30) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपितों के पास से 50 किलोग्राम बेहद उम्दा किस्म की हेरोइन बरामद की है। आरोपित मणिपुर के अलावा उत्तर-पूर्वी राज्यों से कार की डिक्की व बोनट में विशेष केविटी (गुप्त स्थान) बनाकर हेरोइन तस्करी कर लाते थे। सारे मादक पदार्थ मणिपुर व म्यांमार के अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर से भारत में आते थे। ज्यादातर मादक पदार्थ गोल्डन ट्राइएंगल एरिया (लहासा, थाईलैंड और म्यांमार) से भारत आ रहे थे। पुलिस पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है। स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव ने बताया कि पिछले काफी समय से स्पेशल सेल की टीम ने नशे का धंधा करने वाले लोगों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया हुआ था। इसके तहत इस साल 14 मामलों में 43 लोगों को गिरफ्तार कर कुल 177 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई है। इसी कड़ी में छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि ज्यादातर मामलों में हेरोइन मणिपुर व उत्तर-पूर्व के दूसरे राज्यों से आ रही थी। उत्तर-पूर्वी राज्यों में बैठे हेरोइन के सप्लायर मणिपुर व म्यांमार की सीमा से कच्चा माल तस्करी कर भारत मंगा रह थे। बाद में हेरोइन तैयार कर उसे इन सप्लायरों के हवाले किया जा रहा था। कई माह की मशक्कत के बाद पुलिस ने कुछ लोगों को ही पहचान की। इसी कड़ी में एसआई प्रवीन को चार अप्रैल को सूचना मिली कि कुछ हेरोइन तस्कर स्विफ्ट कार से हेरोइन लेकर बुराड़ी इलाके में आने वाले हैं। सूचना के बाद पुलिस ने कार समेत सूफियान व इस्माइल को दबोच लिया। सूफियान के पास से 11 किलोग्राम और इस्माइल के पास से 14 किलोग्राम हेरोइन बरामद हुई। बाकी 25 किलो हेरोइन को इनकी कार की डिक्की व बोनट में गुप्त जगह बनाकर छुपाई गई जगह से बरामद किया गया। पूछताछ के दौरान दोनों ने बताया कि वह बेगूसराय, बिहार निवासी मनोज कुमार दास के कहने पर मणिपुर में कबीर नामक शख्स से हेरोइन लेकर आए हैं। सूचना मिलते ही एक टीम को फौरन बिहार भेज दिया गया। वहां क्रेटा कार समेत मनोज को पटना रोड से दबोच लिया गया। तीनों से पूछताछ हुई तो इन्होंने बताया कि हेरोइन को बाराबंकी निवासी हाशिम उर्फ नेता को भी सप्लाई किया जाता है। हाशिम अपने एक जानकार से मिलने दिल्ली आने वाला था। पुलिस न छापेमारी कर बवाना, दिल्ली से आरोपित हाशिम को भी दबोच लिया। सभी के पास से उनके मोबाइल फोन भी बरामद हुए। पुलिस पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। सूफियान और इस्माइल करते हैं कुरियर का काम पुलिस की पूछताछ में सूफियान और इस्माइल ने बताया कि वह मनोज कुमार दास के कहने पर कुरियर का काम करते हैं। मनोज मणिपुर में बैठे ड्रग्स माफिया कबीर से दोनों को हेरोइन देने के लिए कहता है। मनोज का इशारा मिलते ही दोनों मणिपुर व बाकी जगह पहुंचकर हेरोइन लेते हैं। बाद में हेरोइन के पैकेट बनाकर उसको कार की डिक्की और बोनट में बनाई गई गुप्त जगह पर छुपाकर लाया जाता है। इसके बाद हेरोइन को दिल्ली-एनसीआर के अलावा, यूपी, बिहार, पंजाब, हरियाणा व दूसरे राज्यों में मनोज के इशारे पर पहुंचा दिया जाता है। इससे पूर्व चार-पांच बार आरोपित मनोज के कहने पर भारी मात्रा में हेरोइन लाकर सप्लाई कर चुके हैं। मनोज कुमार दास गैंग का सरगना छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला है कि आरोपी मनोज कुमार दास गैंग का सरगना है। वह पिछले आठ-दस सालों से नशे का धंधा कर रहा है। मणिपुर में बैठे कबीर से वह फोन पर संपर्क कर माल का ऑर्डर देता है। बाद में सूफियान व इस्माइल को हेरोइन लेने कबीर के पास भेज दिया जाता है। कबीर पड़ोसी देशों से हेरोइन बनाने का कच्चा माल मंगाकर भारत में हेरोइन तैयार कर भेजता है। वहीं हाशिम नेता भी मनोज से ही हेरोइन मंगवाकर दिल्ली-एनसीआर व यूपी में सप्लाई कर रहा था। पुलिस सभी पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी शर्मा
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image