Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 06:04 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

दिल्ली सरकार के झूठे वादों के लिए सोशल मीडिया में चलाया जाएगा 'केजरीवाल ब्लफ कैंपेन': गोयल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 5 2019 8:06PM
दिल्ली सरकार के झूठे वादों के लिए सोशल मीडिया में चलाया जाएगा 'केजरीवाल ब्लफ कैंपेन': गोयल
नई दिल्ली, 05 अप्रैल (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आम आदमी पार्टी (आप) के पिछले चार सालों में किए गए वायदे को झूठ का पुलिंदा करार देते हुए ''केजरीवाल ब्लफ'' अभियान की शुरुआत की। शुक्रवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि केजरीवाल ने पिछले चार साल में दिल्ली की जनता के साथ जितने झूठे वायदे किए उनको सोशल मीडिया पर दिखाया जाएगा। विजय गोयल ने कहा कि केजरीवाल अपनी जनसभाओं में हमेशा यह कहते रहे हैं कि हमने शिक्षा क्षेत्र में अंदर क्रांति ला दी, मोहल्ला-क्लीनिक को विश्व स्तरीय बना दिया है, बिजली-पानी, अस्पताल और कच्ची कॉलोनियों की भी बात करते है जो सभी झूठीं हैं। गोयल ने कहा कि दिल्ली के अंदर 1 हजार 2800 सरकारी स्कूल है जिसमें 16 लाख बच्चे पढ़ते हैं। पिछले चार सालों में सरकारी स्कूलों के अंदर 5 लाख बच्चें फेल हुए हैं जिसमें 4 लाख बच्चों को दोबारा दाखिला नहीं मिला है। इन बच्चों को उनके हाल पर छोड़ दिया गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश भी यही कहता है कि इन बच्चों को दोबारा दाखिला देना पड़ेगा, लेकिन केजरीवाल अपनी शिक्षा व्यवस्था को अच्छा दिखाने के लिए उन बच्चों को दोबारा दाखिला नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकारी स्कूलों में 24 हजार पद खाली है, जिनको अभी तक भरे नहीं गए हैं। वहीं प्रिंसिपल से कुछ और ही काम लिया जा रहा है। उन्होंने मीडिया से भी आह्वान किया कि स्कूलों में जाकर बच्चों का जरनल टेस्ट लें तो पता चल जाएगा कि उन्हें किस तरह की शिक्षा मिल रही है। उन्होंने कहा कि जो बच्चे फेल हो गए हैं, केजरीवाल सरकार में उनको दोबारा दाखिला नहीं मिला है। उन बच्चों के पैरेंट्स के साथ 16 अप्रैल को एक कार्यक्रम करेंगे ताकि उनको पता चले कि केजरीवाल किस तरह सबको धोखा दे रहे हैं। इस दौरान सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में न तो कई काम हुआ है न ही नए कमरों का निर्माण हुआ है और न तो कोई नए टीर्चस की कोई भर्ती हुए है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन सालों सरकारी स्कूलों में 8 प्रतिशत एडमिशन की गिरावट आई है, जिसका कारण केजरीवाल की शिक्षा नीति है। उन्होंने कहा कि उपमुख्यमंत्री के आदेश के बाद सरकारी स्कूलों के टीचर्स पत्र बांट रहे हैं जिसमें लिखा है कि भाजपा को वोट मत दो। उन्होंने कहा देश में आचार संहिता लागू होने के बाद ''आप'' उसका उल्लंघन कर रही है। वहीं सांसद रमेश बिधूड़ी ने भी आकड़ों के माध्यम से केजरीवाल सरकार की शिक्षा नीति पर प्रहार किया। हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image