Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 05:31 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

ई-एफआईआर दर्ज कराने के दिल्ली पुलिस ने बनाई सभी थानों में इंटरनेट डेस्क

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 3 2019 9:01PM
ई-एफआईआर दर्ज कराने के दिल्ली पुलिस  ने बनाई सभी थानों में इंटरनेट डेस्क
नई दिल्ली, 03 अप्रैल (हि.स.)। अब आप पुलिस थाने में जाकर भी ई-एफआईआर दर्ज करा सकते हैं। दिल्ली पुलिस ने एक अप्रैल यह व्यवस्था शुरू की है। इसके तहत सभी थानों में एक डेस्क बनाई गई है जहां तैनात पुलिसकर्मी आपकी ई-एफआईआर भी दर्ज करेगा। माना जा रहा है कि इंटरनेट उपयोग नहीं करने वालों को आने वाली दिक्कतों के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने यह नई व्यवस्था शुरू की है। इसके पहले लोगों को या तो खुद ही ई-एफआईआर दर्ज करानी होती थी। या फिर इंटरनेट नहीं जानने वाले व्यक्ति को साइबर कैफे का सहारा लेना पड़ता था। लोगों की इस दिक्कत को देखते हुए उन्हें सहूलियत देने के लिए दिल्ली पुलिस ने यह पहल की है। इन मामलों में रिपोर्ट दर्ज करा सकते हैं वाहन चोरी व आपके सामान चोरी होने व गुम होने की घटना कि रिपोर्ट के लिए ई-एफआईआर की व्यवस्था की शुरुआत पुलिस ने की थी। इसके बाद दिल्ली में होने वाले साइबर और आर्थिक अपराध की एफआईआर भी ऑनलाइन दर्ज करने की शुरुआत की गई। वाहन चोरी व सामान गुम होने को लेकर एक एप के जरिए ई-एफआईआर दर्ज करा सकते हैं। उसी तरह ‘ईओडब्ल्यू एप’ के जरिए साइबर या आर्थिक अपराध से जुड़े मामलों की एफआईआर दर्ज होती है। इसलिए पड़ी जरूरत अमूमन वाहन या सामान चोरी की घटना के बाद इंटरनेट के उपयोग में सहज लोग तो मोबाइल, लैपटॉप या कंप्यूटर के जरिए घर बैठे ही ई-एफआईआर दर्ज करा देते हैं। लेकिन, जो इंटरनेट के उपयोग में उतने सहज नहीं हैं वे शिकातय लेकर थाने पहुंचते हैं। इस पर पुलिस की तरफ से खुद ही ई-एफआईआर कराने की बात कहकर थाने से लौटा दिया जाता था। ऐसे में पीड़ित शिकायत लेकर दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के पास पहुंचते थे। इस बात की जानकारी मिलने के बाद थाने में ही ऐसे पीड़ितों की मदद करने की व्यवस्था शुरू की गई है। ये सुविधा मिलेगी --सामान/वाहन चोरी की ई-एफआईआर दर्ज करा सकेंगे। --नौकरों व किराएदारों का सत्यापन (वेरिफिकेशन) कराने की व्यवस्था होगी। --चरित्र प्रमाण पत्र (कैरेक्टर वेरिफिकेशन रिपोर्ट) की व्यवस्था होगी। ये व्यवस्थाएं भी शुरू की गईं --सभी थानों में महिला हेल्प हेस्क बना महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती --दुष्कर्म के मामलों की जांच महिला जांच अधिकारी को सौंपने की व्यवस्था हुई --पीड़ितों को मामले की जांच की प्रगति के लिए फीडबैक काउंटर बनाया गया हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी शर्मा
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image