Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 05:32 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

आईपीएल मैच स्पॉट फिक्सिंग मामले में हाईकोर्ट ने पूछा, क्या सभी आरोपितों पर नोटिस तामील हुआ

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 2 2019 8:38PM
आईपीएल मैच स्पॉट फिक्सिंग मामले में हाईकोर्ट ने पूछा, क्या सभी आरोपितों पर नोटिस तामील हुआ
नई दिल्ली, 02 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली हाईकोर्ट ने 2013 के आईपीएल मैच के दौरान स्पॉट फिक्सिंग मामले में क्रिकेटर एस श्रीसंत, अजीत चंडीला और अंकित चौहान के साथ ट्रायल कोर्ट से आरोप मुक्त किए जाने के फैसले के खिलाफ दिल्ली पुलिस की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार से पूछा है कि क्या सभी आरोपितों पर नोटिस तामील हो गया है। जस्टिस सुनील गौर ने रजिस्ट्रार के समक्ष इस मामले को 10 अप्रैल को लिस्ट करने का आदेश दिया है। मंगलवार को सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस के वकील दायन कृष्णन ने बताया कि सभी आरोपितों को नोटिस भेजा जा चुका है। इस मामले में 36 आरोपी हैं, जिन्हें हाईकोर्ट ने 18 नवंबर 2015 को ही नोटिस जारी किया था। श्रीसंत समेत सभी 36 आरोपितों को ट्रायल कोर्ट की ओर से क्लीन चिट मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। दिल्ली पुलिस ने ट्रायल कोर्ट के आदेश को गलत बताते हुए याचिका दायर की थी।उल्लेखनीय है कि 15 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने क्रिकेटर श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगाने के बीसीसीआई के फैसले को निरस्त करते हुए उन्हें स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों से मुक्त कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई को निर्देश दिया था कि वो श्रीसंत को दी गई सजा पर नए सिरे से विचार करें। कोर्ट ने कहा था कि श्रीसंत को दी गई आजीवन प्रतिबंध की सजा अधिक है। बीसीसीआई इस पर तीन महीने में निर्णय ले।सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि श्रीसंत का यह कहना गलत है कि मामले में बरी होने पर बीसीसीआई को उसे सजा देने का अधिकार नहीं है। बीसीसीआई को किसी भी मामले में क्रिकेटर पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का अधिकार होता है। कोर्ट ने कहा था कि हमारे फैसले का श्रीसंत के खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों पर कोई असर नहीं होगा। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/बच्चन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image