Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 05:33 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

रंजिश के चलते व्यक्ति की गोली मारकर हत्या

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 1 2019 8:21PM
रंजिश के चलते व्यक्ति की गोली मारकर हत्या
नई दिल्ली, 01 अप्रैल (हि.स.)। न्यू उस्मानपुर इलाके में रविवार रात थाने से चंद कदमों की दूरी पर एक शख्स की उसके मासूम बेटे के सामने ही गोलियां से भूनकर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान हकीमुद्दीन (44) के रूप में हुई है। वारदात के समय हकीमुद्दीन अपने पांच वर्षीय बेटे को लेकर दुकान से सामान लेने के लिए निकला था। इसी दौरान आधा दर्जन बदमाशों ने हकीमुद्दीन पर गोलियां बरसा दीं। हकीमुद्दीन की मौके पर ही मौत हो गई। परिवार का आरोप है कि हकीमुद्दीन के छोटे भाई द्वारा प्रेम विवाह करने पर हुई रंजिश की वजह से ही उसकी हत्या की गई। इसी रंजिश में पहले ही एक युवक की हत्या के मामले में हकीमुद्दीन के दो भाई जेल में बंद हैं। हकीमुद्दीन की बहन का आरोप है कि रविवार को हत्या के समय हमलावरों में दो महिलाएं भी शामिल थीं, पुलिस इससे इंकार कर रही है। पुलिस ने फिलहाल मामले में दो युवकों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार हकीमुद्दीन परिवार के साथ 292, गली नंबर-ई-13सी, जे-ब्लॉक, न्यू सीलमपुर में रहता था। न्यू उस्मानपुर थाने से करीब 100 मीटर दूरी पर इसका मकान है। इसके परिवार में पत्नी रेशमा के अलावा चार बेटियां और दो बेटे हैं। हकीमुद्दीन डीटीसी कलस्टर बस में चालक था। रविवार रात को वह हकीमुद्दीन जे-ब्लॉक में ही रहने वाली अपनी मौसी के घर खाना खाकर परिवार के साथ लौट रहा था। उसके साथ छोटी बहन रहमत भी थी। घर पहुंचने पर रेशमा ने हकीमुद्दीन से बेटे के लिए हगीज लाने के लिए कहा। हकीमुद्दीन अपने पांच वर्षीय बेटे को लेकर घर के नीचे ही दुकान पर आ गया। अभी हकीमुद्दीन दुकान पर पहुंचा ही था कि पहले से बाइक व स्कूटी पर घात लगाए आधा दर्जन से अधिक लड़कों ने पिस्टल निकाल ली। हकीमुद्दीन के बेटे ने पिता को इसके लिए चेताया भी कि कोई आपको गोली मार कर रहा है, जैसे ही हकीमुद्दीन ने पलटकर देखा, इसी दौरान बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। बदमाशों ने मासूम के सामने ही उसके पिता पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। हकीमुद्दीन का बेटा भागकर अपने घर चला गया। इस बीच बदमाशों ने करीब दर्जनभर से अधिक गोलियां चलाई। हकीमुद्दीन को आठ गोलियां लगी। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वारदात के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। परिवार भागकर नीचे आया और उसे नजदीकी जगप्रवेश चंद अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर दो लड़कों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने हत्या में किसी भी महिलाओं के शामिल होने की बात से इंकार किया है। भाई के प्रेम विवाह करने पर हुई थी रंजिश हकीमुद्दीन की बहन रहमत ने बताया कि उसके परिवार में दो और भाई नईमुद्दीन उर्फ बड़ा नन्हे और शहजाद उर्फ छोटा नन्हे हैं। उनके कुछ रिश्तेदार अपनी बहन से शहजाद की शादी करवाना चाहते थे। लेकिन करीब एक साल पूर्व शहजाद ने रिश्तेदारों व परिवार की मर्जी के खिलाफ चुपचाप प्रेम विवाह कर लिया था। इसका उसके रिश्तेदारों ने कड़ा ऐतराज किया था। इसी ऐतराज के चलते 8-9 माह पूर्व हकीमुद्दीन के रिश्तेदारों ने नईमुद्दीन पर हमला कर दिया था। शहजाद भी बीच-बचाव कराने चला गया था। उसी झगड़े के दौरान चली गोली से एक पड़ोसी युवक सलमान की मौत हो गई थी। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर नईमुद्दीन और शहजाद को गिरफ्तार कर लिया था। हकीमुद्दीन के रिश्तेदार उसे भी देखने की धमकी देते थे। परिवार का आरोप है कि उन रिश्तेदारों ने ही हकीमुद्दीन की हत्या की है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी शर्मा
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image