Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, अप्रैल 24, 2019 | समय 03:30 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

फेसबुक फ्रेंड बनकर करता था ठगी, गिरफ्तार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 28 2019 9:31PM
फेसबुक फ्रेंड बनकर करता था ठगी, गिरफ्तार
नई दिल्ली, 28 मार्च (हि.स.)। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की साइबर सेल ने फेसबुक फ्रेंड बनकर लोगों से ठगी करने वाले एक नाइजीरियाई को गिरफ्तार किया है। आरोपित महिला बनकर चैट के द्वारा से लोगों से दोस्ती करता था। बाद में अलग-अलग बहाने से उनसे रुपये अपने खाते में मंगवाता था। ठग पटपड़गंज के रहने वाले एक व्यक्ति से भी करीब छह लाख रुपये ठग चुका है। आरोपित की पहचान ओआइ हेनरे के रूप में हुई है। पुलिस ने ठग के पास से दो लैपटाप, 16 मोबाइल फोन और 21 सिम सहित डेबिट और क्रेडिट कार्ड बरामद किया हैं। आरोपित ने दर्जनों लोगों से ठगी की है। पुलिस अन्य मामले का पता लगा रही है। क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी डा. अजीत कुमार सिंगला के अनुसार पटपड़गंज निवासी संजय बनर्जी नाम के एक व्यक्ति ने होली डेबिड नाम की विदेशी महिला के खिलाफ ठगी की शिकायत दर्ज कराई थी। पीड़ित ने बताया कि यूके की रहने वाली होली डेबिड से उनकी दोस्ती फेसबुक के द्वारा हुई थी। बाद में वे वाट्सएप और इमेल के द्वारा से भी बात करते थे। इसी बीच महिला ने संजय को बताया था कि वह छह फरवरी 2017 को भारत आ रही है। इसी दौरान छह फरवरी को मुंबई से खुद को कस्टम अधिकारी बताने वाले ने फोन कर पीड़ित को कहा कि उसकी विदेशी दोस्त को कस्टम क्लीयरेंस के लिए 55 हजार रुपये भरने होंगे। वहीं बाद में ठग ने एंटी टेरेरिस्ट सर्टिफिकेट और अन्य कागजी कार्रवाई के नाम पर उनसे 5.90 लाख रुपये अपने खाते में गिरवा लिए। बाद में और रुपये की मांग की जा रही थी, लेकिन ठगी का पता चलते ही संजय बनर्जी ने रुपये भेजने से इंकार कर दिया और बाद में घटना की शिकायत पुलिस में की। शिकायत मिलने के बाद पुलिस टीम ने छह माह तक पीड़ित के पास फोन करने वाले की काल और इमेल इत्यादि की जांच की। इसमें पता चला कि आरोपित दिल्ली के देवली खानपुर इलाके में रहता है। जिसके बाद पुलिस की टीम ने नाइजीरियाई ओआइ हेनरे को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि वह वर्ष 2013 में बिजनेस वीजा पर नाइजीरिया से दिल्ली आया था। बाद में वह वर्ष 2016 में ओखला निवासी एक महिला के साथ रहने लगा। इसी बीच उसने महिला बनकर फेसबुक और सोशल मीडिया के माध्यम से दोस्ती कर लोगों को ठगी का शिकार बनाने का आइडिया आया था। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी शर्मा
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image