Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अप्रैल 22, 2019 | समय 05:45 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

'आप' के दिल्ली के छात्रों को आरक्षण देने की मांग का सीपीआई (एम) ने किया विरोध

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 28 2019 7:17PM
'आप' के दिल्ली के छात्रों को आरक्षण देने  की मांग का सीपीआई (एम) ने किया विरोध
नई दिल्ली, 28 मार्च (हि.स.)। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की दिल्ली राज्य समिति ने गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कोंडली विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा में दिए गए उस बयान की कड़ी निंदा की है जिसमें उन्होंने दिल्ली के पूर्ण राज्य बनते ही दिल्ली के कॉलेजों में 85 प्रतिशत सीटों पर दिल्ली के छात्रों का ही हक होने की बात कही थी। माकपा ने कहा कि दिल्ली-नेशनल केपिटल रीजन (एनसीआर) में अन्य राज्यों के छात्र दिल्ली के विश्वविद्यालयों व कॉलेजों में पढ़ते हैं।अत: पार्टी ऐसी विभाजनकारी नीति के खिलाफ है। पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में माकपा की दिल्ली राज्य समिति ने कहा कि इस तरह की मांग बार-बार कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) करती रही हैं। हालांकि मूल मुद्दा यह है कि पिछले तीन दशकों में केंद्र व राज्य सरकार राजधानी में कोई भी नया कॉलेज खोलने में असफल रही है। जबकि आम आदमी पार्टी ‘आप’ सरकार ने दिल्ली के स्कूली शिक्षा क्षेत्र में सराहनीय काम किया है लेकिन वह भी अपने चुनावी घोषणा पत्र में दिल्ली में 20 नए कॉलेज खोलने के वादे को निभा नहीं पाई है। माकपा ऐसी विभाजनकारी रणनीति की कड़ी निंदा करती है, जिसका उद्देश्य लगातार सरकारों की विफलता को छिपाना है। पार्टी ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में आने वाले छात्रों को दिल्ली कॉलेजों में पढ़ने के अवसर से वंचित करने के बजाय राज्य सरकार को बड़ी संख्या में नए कॉलेज खोलने चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन/सुभाष
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image