Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 13:49 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

दिल्ली सिख विरोधी दंगे के चश्मदीद जोगिंदर सिंह ने कोर्ट में कहा-सज्जन ने भीड़ को उकसाया था

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 28 2019 5:40PM
दिल्ली सिख विरोधी दंगे के चश्मदीद जोगिंदर सिंह ने कोर्ट में कहा-सज्जन ने भीड़ को उकसाया था
नई दिल्ली, 28 मार्च (हि.स.)। 1984 में दिल्ली के सुल्तानपुरी सिख विरोधी दंगा मामले में पूर्व कांग्रेस नेता सज्जन कुमार के खिलाफ दायर मामले के चश्मदीद गवाह जोगिंदर सिंह ने अपने बयान में पटियाला हाउस कोर्ट को बताया कि सज्जन कुमार ने भीड़ का नेतृत्व किया और उन्हें उकसाने का काम किया। पटियाला कोर्ट की डिस्ट्रिक्ट जज पूनम बांबा ने आज जोगिंदर सिंह का बयान दर्ज करने के बाद उनका क्रास एग्जामिनेशन करने के लिए 9 और 10 अप्रैल की तिथि नियत की। जोगिंदर सिंह ने कहा का जब वे पुलिस के पास एफआईआर लिखवाने पहुंचा तो पुलिस सज्जन कुमार का नाम लिखने से इनकार कर दिया। जोगिंदर सिंह ने कहा कि उस दंगे में उसके भाई की हत्या कर दी गई। गत सात मार्च को इस मामले की मुख्य गवाह चाम कौर का क्रास-एग्जामिनेशन खत्म हुआ। सज्जन कुमार एक दूसरे सिख विरोधी दंगों के मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद दिल्ली की मंडोली जेल में बंद हैं। सज्जन कुमार ने 31 दिसम्बर, 2018 को दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट में सरेंडर किया था। ये केस सुल्तानपुर का है। इस केस को दर्ज करने का आदेश सिख विरोधी दंगों की जांच के लिए बने नानावती आयोग ने दिया था। पिछले 16 नवम्बर को इस केस की मुख्य गवाह चाम कौर ने पटियाला हाउस कोर्ट में अपनी गवाही के दौरान कोर्ट में उपस्थित सज्जन कुमार की पहचान की थी। उसके पहले 20 सितम्बर को चाम कौर ने आरोप लगाया था कि उन्हें कोर्ट में गवाही देने से रोका जा रहा है। चाम कौर ने पटियाला हाउस कोर्ट में याचिका दायर कर अपनी सुरक्षा की मांग की थी। चाम कौर ने कहा था कि उन्हें फोन पर धमकी दी जा रही है कि अगर उसने कोर्ट में गवाही दी तो गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार हो जाएं। चाम कौर ने कहा था कि 19 सितम्बर की रात दिल्ली के सुल्तानपुर माजरा के पूर्व कांग्रेस विधायक जय किशन के लोगों ने उसके घर आकर धमकी दी। उन्हें पैसे का भी लालच दिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/दधिबल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image