Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 20, 2018 | समय 11:08 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

भाजपा पर बरसे अभिषेक मनु सिंघवी, कहा बीजेपी कर रही जनता का विनाश

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 4 2018 8:02PM
भाजपा पर बरसे अभिषेक मनु सिंघवी, कहा बीजेपी कर रही जनता का विनाश
रायपुर, 04 नवम्बर। (हि.स.)। कांग्रेस के कद्दावर नेता और प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रदेश और केंद्र सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि भाजपा पुत्रमोह में लिप्त है। उसने सिर्फ अपने बेटों का विकास किया है, भाजपा ने जनता का विनाश करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। अभिषेक मनु सिंघवी ने रविवार को भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा पुत्र मोह पर आधारित अच्छे दिन का मॉडल पेश कर रही है। छत्तीसगढ़ से लेकर केंद्र सरकार तक बैठे नेता सिर्फ अपना विकास कर रहे हैं। देश ‘विकास की जय’ की प्रतीक्षा कर रह है, लेकिन साढ़े चार साल में एकाएक जय का विकास हुआ है। पुत्रप्रेम से ग्रसित भाजपा अभिषेक मनु सिंघवी ने आरोप लगाया कि भाजपा बेटों पर मेहरबान है, पर राहुल गांधी के सवाल पर अभिषेक मनु ने चुप्पी साध ली। आपको बता दें कि पत्रकारों ने राहुल गांधी पर कांग्रेस की मेहरबानी को लेकर प्रश्न पूछा था, जिसका जवाब देने की बजाय सिंघवी बात को गोलमोल घुमाते दिखे। बीपीएल कार्ड धारक मामले पर बोले सिंघवी कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने पत्रकारवार्ता के दौरान कहा कि यह इस देश का और इस प्रदेश का दुर्भाग्य है कि एक तरफ इस प्रकार की उन्नति, समृद्धि एवं ख़ुशहाली पुत्रों की हो रही है और दूसरी तरफ़ छत्तीसगढ़ में बीपीएल से नीचे रहने वाले व्यक्तियों की संख्या में प्रथम स्थान पर पहुंच गया है, ये दुर्भाग्यपूर्ण होड़ है, शायद छत्तीसगढ़ ही एक ऐसा प्रदेश है जिसके जन्मदिन पर 37% लोग बीपीएल रेखा के नीचे थे और आज केंद्र सरकार के ख़ुद के आंकड़ों के आधार पर क़रीब 42% लोग इस रेखा के नीचे हैं। पनामा मामले पर बोले सिंघवी सिंघवी ने कहा कि बेटों के विकास और जनता के विनाश की भाजपाई परम्परा को आगे बढ़ाते हुए रमन सिंह ने भी छत्तीसगढ़ को भुखमरी, बीमारी और बदहाली से त्रस्त कर डाला और ख़ुद के पुत्र के विदेशी बैंक खातों को मालामाल कर दिया। सिंघवी ने भाजपा को घेरते हुए कहा कि पिछले वर्षों में तीन भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्षों को संदेह के घेरे में लगे इल्जामों के चलते पदमुक्त होना पड़ा। वहीं सिंघवी राहुल गांधी के नेशनल हेराल्ड मामले पर बोलने से बचते दिखे। हिन्दुस्थान समाचार/मधुकर/चंद्र नारायण/बच्चन
image