Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 20, 2018 | समय 11:37 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

निष्पक्ष चुनाव में माइक्रो ऑब्जर्वर की अहम भूमिका : कमिश्नर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 3 2018 9:05PM
निष्पक्ष चुनाव में माइक्रो ऑब्जर्वर की अहम भूमिका : कमिश्नर
रायपुर, 03 नवम्बर (हि.स.)। विधानसभा चुनावों के तहत स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए जिले के सातों विधानसभा क्षेत्रों हेतु नियुक्त 435 माइक्रो ऑब्जर्वर का प्रथम चरण का प्रशिक्षण शनिवार को शासकीय जे. योगानन्दम छत्तीसगढ़ (स्वशासी) महाविद्यालय बैरन बाजार रायपुर में आयोजित किया गया। रायपुर संभाग के आयुक्त जी. आर. चुरेन्द्र ने प्रशिक्षण सत्र में माईक्रो आब्जर्वर्स को उनके दायित्वों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की तथा कहा कि स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचन में माइक्रो ऑब्जर्वर्स की अहम भूमिका रहती है। उन्होंने कहा कि माईक्रो आब्जर्वर्स भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त किए गए केन्द्रीय आब्जर्वर्स के नियंत्रण में रहते है। वे सीधे प्रेक्षक को अपनी रिपोर्ट देते है और प्रेक्षक निर्वाचन आयोग को। चुरेन्द्र ने कहा कि सभी माईकों आब्जर्वर्स बिना किसी दबाव के उन्हें सौंपी गई भूमिका का निर्वहन करें। मतदान दलों के साथ सद्भावना वातावरण में कार्य करें तथा मतदान के दिन उन्हें 36 बिन्दुओं पर जानकारी देनी होती है उसेे समय पर पूर्ण कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। गौरतलब है कि केन्द्रीय कर्मचारियों को माइक्रो ऑब्जर्वर्स के रूप तैनात किया जाता है जो सीधे केन्द्रीय ऑब्जर्वर्स के नियंत्रण में होते है। इन माईक्रो आब्जर्वर्स की नियुक्ति सामान्य एवं संवेदनशील मतदान केंद्रों में की जाएगी। ये माइक्रो ऑब्जर्वर्स सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया पर निगरानी रखेंगे तथा सामान्य प्रेक्षकों को रिपोर्ट करेंगे। माइक्रो ऑब्जर्वर्स का प्रथम चरण का प्रशिक्षण आज शासकीय जे. योगानन्दम छत्तीसगढ़ (स्वशासी) महाविद्यालय बैरन बाजार रायपुर में संपन्न हुआ। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में रायपुर जिले के सातों विधानसभा क्षेत्रों के कुल 435 माइक्रो ऑब्जर्वर्स शामिल हुए। प्रशिक्षण के दौरान माइक्रो ऑब्जर्वर्स को निर्वाचन प्रक्रिया विशेषकर मतदान प्रक्रिया की जानकारी विस्तार से दी गई। इस अवसर पर ईव्हीएम और वीवीपैट के माध्यम से मतदान प्रक्रिया का प्रदर्शन करके दिखाया गया। उन्हें निर्वाचन प्रक्रिया में उनकी भूमिका तथा उनके द्वारा संपादित किये जाने वाले कार्यों एवं गतिविधियों के बारे में बताया गया। प्रशिक्षण के दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा माइक्रो ऑब्जर्वर्स के लिए जारी दिशा-निर्देशों की जानकारी भी दी गई। हिन्दुस्थान समाचार/गायत्री प्रसाद/बच्चन
image