Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, नवम्बर 16, 2018 | समय 12:40 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

जगदलपुर सीट पर निर्णायक भूमिका निभाते हैं ग्रामीण मतदाता

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 3 2018 3:54PM
जगदलपुर सीट पर निर्णायक भूमिका निभाते हैं ग्रामीण मतदाता
जगदलपुर, 03 नवंबर (हि.स.)। बस्तर संभाग की जगदलपुर विधानसभा सीट कई मामलों में अद्वितीय है। इसीलिए इस सीट पर विजय पाना प्रतिष्ठा का विषय है। इसके अलावा इस सीट पर ही जिले के सबसे अधिक और सबसे कम मतदाता वाले केंन्द्र हैं। यह विधानसभा सीट सामान्य श्रेणी में आती है। संभाग की बाकी सभी 11 सीटें आरक्षित श्रेणी में आती हैं। इसके अलावा यहां पर मतदान ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक होता है। ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाता ही प्रत्याशी की हार-जीत तय करते हैं। चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आती जा रही है, प्रत्याशियों ने जोर-अजमाइश और जनसंपर्क बढ़ा दिया है। वर्तमान समय में इस सीट के सभी उम्मीदवारों ने ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचार-प्रसार का कार्य तेज कर दिया है। नामांकन दाखिले के बाद से जगदलपुर से चुनाव लड़ने वाले सभी प्रत्याशियों ने प्रचार के लिए ग्रामीण क्षेत्रों की ओर अपना ध्यान केंद्रित किया है। शहरी मतदाताओं के लिए आखरी के दो-तीन दिन प्रत्याशियों की आवाजाही शहर में अधिक रहेगी। ग्रामीण क्षेत्रों की ओर प्रचार करने का कारण यह भी है कि जगदलपुर विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 184420 है। पिछले दो चुनाव से शहर में कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला रहा। प्रत्याशी की जीत-हार का फैसला गांव के मतदाताओं ने किया। जगदलपुर विधानसभा सीट में कम मतदाता वाला केंद्र ग्राम माचकोट में बनाया गया है। जहां केवल 88 पुरुष और 93 महिला मतदाता हैं। दूसरा सबसे अधिक मतदाता वाला मतदान केंद्र शहर में स्थित है। यह मतदान केंद्र नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत मतदान केंद्र क्रंमाक 131 और यहां पर 1347 मतदाता हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सुधीर/चंद्र नारायण/पवन/बच्चन
image