Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 08:20 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

परिवार चलाने में अग्रणी बस्तर की महिलाओं की वोट डालने में रूचि नहीं

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 28 2018 3:13PM
परिवार चलाने में अग्रणी बस्तर की महिलाओं की वोट डालने में रूचि नहीं

सुधीर

जगदलपुर। बस्तर में पुरूष मतदाताओं की संख्या के मुकाबले महिला मतदाताओं की संख्या अधिक है लेकिन इसके बाद भी बस्तर की महिलाओं को वोट डालने में रूचि नहीं है। गत विधानसभा और लोकसभा चुनाव के इतिहास पर नजर डाले तो पुरूषों के मुकाबले महिलाओं ने कम मतदान किया है।

इस संबंध में यह एक महत्वपूर्ण तथ्य है कि बस्तर की महिलायें परिवार चलाने की जिम्मेदारी स्वयं उठाती है और घर के काम-काज से लेकर बाहर के सभी कार्य उनके ही द्वारा होता है। इसके अलावा बस्तर की महिलायें अपनी परिवार के लिए मजदुरी सहित अन्य कई प्रकार के कार्य करती है जिससे परिवार की आय बढ़ सके।

उल्लेखनीय है कि चुनाव में वोट डालने की जिम्मेदारी उठाने में वे अपनी रूचि इसलिए भी नहीं रखती कि उन्हें घर के कई कार्य करने होते हैं। इसके अलावा पूरे परिवार का ध्यान रखते हुए वे इतनी व्यस्त हो जाती है कि उन्हेें वोट डालने के लिए समय ही नहीं मिल पाता। इसके अलावा बस्तर की ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं में साक्षरता की कमी भी है।

जिसके कारण वे अपने वोट का मूल्य नहीं समझती। इसलिए भी उनके द्वारा मतदान में कोई उत्सुकता नहीं दिखाई जाती। इसके लिए चुनाव आयोग सहित राजनीतिक दलों व सामाजिक कार्यकर्ताओं को भागिरथ प्रयास करना होगा। वैसे जिस दल ने भी महिलाओं को वोट करने के लिए प्रेरित किया और वोट डलवाये तो निश्चित रूप से परिणाम उनके हक में होगा।

image