Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 08:06 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बस्तर : मुश्किल में नेताजी, कार्यकर्ताओं ने नक्सली इलाके में जाने से किया इनकार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 30 2018 11:45AM
बस्तर : मुश्किल में नेताजी, कार्यकर्ताओं ने नक्सली इलाके में जाने से किया इनकार

सुधीर

जगदलपुर। बस्तर संसदीय चुनाव क्षेत्र के बिसात बिछ चुकी है और प्रमुख रूप से कांग्रेस तथा भाजपा आमने सामने हैं| उधर,भाकपा दोनों की लड़ाई में फायदा उठाने की कोशिश में लगी है। बस्तर की भौगोलिक परिस्थिति तथा मौसम के तीखे तेवर सहित 70 फीसदी से अधिक नक्सली ग्रस्त चुनाव क्षेत्र होने से प्रचार में नेता और दल बड़ी कठिनाई का सामना कर रहे हैं|

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में कार्यकर्ताओं ने प्रचार करने से इनकार कर दिया है| इससे और अधिक स्थिति बिगड़ रही है। जो भी चुनावी शोरगुल और हल्ला प्रचार का दिखाई पड़ रहा है वह केवल कस्बाई व शहरी क्षेत्रों तक ही सीमित है। इस चुनाव में अभी तक नक्सलियों ने जो भी संकेत दिए हैं उससे यह अंदाजा लगाना गलत नहीं है कि वे चुनाव के समय मतदान को हतोत्साहित कर सकते हैं। उन्होंने अभी दो दिन पूर्व दंतेवाड़ा मुख्यालय के पास ही भाजपा के कद्दावर नेता सदानंद पोडियाम पर कातिलाना हमला कर अपना इरादा भी जाहिर कर दिया है। इस हमले से समूचे क्षेत्र में नक्सलियों की दहशत फैल गई है।

लोग सकते में हैं| पार्टी कार्यकर्ताओं पर भी इसका गंभीर असर हुआ है। नतीजतन कार्यकर्ता नक्सली प्रभावित क्षेत्र के गांवों में प्रचार करने से परहेज कर रहे हैं। इससे राजनीतिक दलों व नेताओं में सब कुछ भगवान भरोसे छोड़कर सीमित क्षेत्रों में ही प्रचार करने की कवायद तेज हो गई है। पिछले हफ्तेभर से नक्सलियों ने बारूदी सुरंग विस्फोट से चार जवानों को शहीद कर, दो को घायल कर दिया और भाजपा नेता पर प्राणघातक हमला किया उससे यह तो सुनिश्चित है कि चुनाव तक पुलिस व राजनेताओं को सतर्क रहना पड़ेगा और फूंक-फूंक कर कदम उठाना होगा|

यह भी सत्य है कि बस्तर के जंगलों में कदम-कदम पर मौत का सामान बिछा हुआ है। नक्सलियों की हालिया हिंसक कार्रवाईयों की प्रकृति एवं हमलों के तौर-तरीकों से यह कहने में कोई संकोच नहीं कि चुनावी प्रक्रिया तहस-नहस करने भारी संख्या में खूंखार किस्म के लड़ाकू दल के नक्सलियों की घुसपैठ हो चुकी है और वे अपने खतरनाक इरादे संजोये संभाग के कोने -कोने में फैले हुए हैं।

image