Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, मार्च 23, 2019 | समय 05:40 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

इंडिगो देश की सबसे खराब एयरलाइंस : संसदीय समिति

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 28 2018 12:20PM
इंडिगो देश की सबसे खराब एयरलाइंस : संसदीय समिति

मुंबई, 28 दिसम्बर (हि.स.)। इंडिगो देश की सबसे खराब एयरलाइंस है। यह रिपोर्ट परिवहन, पर्यटन और संस्कृति मंत्रालय के कामकाज को लेकर संसद की स्थायी समिति की ओर से बनाई गई रिपोर्ट में कही गई है। इंडिगो एयरलाइंस को संसदीय समिति ने अपने उपभोक्ताओं के लिए सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली एयरलाइंस का दर्जा दिया है। बता दें कि हाल ही में वैश्विक विमानन सेवा प्रदाता कंपनियों की रिपोर्ट जारी हुई है। इस सूची में दुनिया की पहली दस एयरलाइन्स सेवा प्रदाता कंपनियों में भारत की कोई भी विमानन कंपनी अपना स्थान बनाने में सफल नहीं हो पाई है। दुनिया की सबसे बेहतर एयरलाइन्स में सिंगापुर एयरलाइन्स और कतर एयरवेज का नाम सबसे टॉप पर है। बता दें कि भारत में हवाई सेवा प्रदाता कंपनियों को बढ़ते कर्ज और लगातार बढ़ते राजस्व घाटे के कारण भारी वित्तीय संकटों का सामना करना पड़ रहा है। भारत की कई एयरलाइंस की ओर से उपलब्ध कराई जा रही सेवाओं को लेकर देश के सांसदों ने भी आलोचना की है। संसदीय समिति ने यात्रियों पर लगाए जा रहे ओवरचार्जिंग, स्टाफ के खिलाफ बढ़ते दुर्व्यवहार की शिकायतों, असंतोषजनक चेक-इन और खराब सामान संग्रह सेवाओं के लिए विमानन कंपनियों की आलोचना की है। संसदीय समिति की रिपोर्ट के मुताबिक, इंडिगो एयरलाइंस उपभोक्ताओं की शिकायतों का माकूल जवाब तक नहीं देती है। लगेज के वजन को लेकर परेशान करती है। निर्धारित वजन से 1 या 2 किलो भी अधिक हो जाने पर वह यात्रियों से भारी शुल्क वसूलती है। संसदीय समिति ने टिकट कैंसिलेशन चार्जेज को लेकर भी कई सुझाव दिए हैं। समिति ने सिफारिश की है कि एयरलाइंस में टिकट कैंसिल कराने का चार्ज 50 फीसदी बेसिक किराए से अधिक नहीं हो सकता है। बता दें कि साल 2018 में दुनिया की शीर्ष 10 एयरलाइंस को शामिल किया गया है। इस सूची में भारत की कोई भी एयरलाइन्स शामिल नहीं है। बेस्ट एयरलाइन्स की सूची में सिंगापुर एयर पहले स्थान पर काबिज है, जबकि दूसरे स्थान पर कतर एयरवेज को शामिल किया गया है। इसके बाद एएनए ऑल निप्पॉन एयरवेज, अमीरात एयरवेज, इवा एयर, कैथे पैसिफिक, लुफ्थांसा एयरलाइन्स, हैनान एयरलाइंस, गरुड़ इंडोनेशिया एयरवेज और थाई एयरवेज का नाम शामिल किया गया है। एशियाई देशों में पहले स्थान पर एयर अस्टाना काबिज है, जबकि चौथे स्थान पर जेट एयरवेज, पांचवें स्थान पर विस्तारा, छठें स्थान पर श्रीलंका एयरलाइन्स और सातवें स्थान पर स्पाइस जेट का नाम शामिल किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/ राधेश्याम / राजबहादुर/राधा रमण

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image