Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, दिसम्बर 18, 2018 | समय 18:23 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

रेलवे रोहतास इंडस्ट्रीज के कबाड़ की नीलामी की प्रक्रिया शुरू

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 13 2018 6:20PM
रेलवे रोहतास इंडस्ट्रीज के कबाड़ की नीलामी की प्रक्रिया शुरू
रोहतास, 13 मार्च (हि.स.)। पूर्व मध्य रेलवे द्वारा रोहतास के डालमिया नगर स्थित क्रय किए गए रोहतास उद्योग समूह के कबाड़ को पुनः निर्धारित दर 74 करोड़ में बेचने की अनुमति मिलते ही उसके नीलामी की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस संबंध में 23 मार्च तक राइट्स ने ग्लोबल टेंडर मांगा है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने सोमवार शाम को राइट्स के ग्रुप जीएम अनिल विज व संबंधित अधिकारियों के साथ हुई बैठक के बाद यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राइट्स ने कबाड़ बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके लिए 23 मार्च तक ग्लोबल टेंडर मांगा गया है। उन्होंने कहा कि 2008 में कबाड़ का दर 129 करोड़ रुपये मूल्यांकन किया था। आठ वर्ष बाद कोई भी एजेंसी इतनी राशि देने को तैयार नहीं हो रही थी। जिस कारण कबाड़ बेचने में बाधाएं आ रही थी। गत 23 जून को रेलवे द्वारा आयोजित एक उच्चस्तरीय बैठक में कबाड़ के दर को पुन:र्निर्धारित करने का निर्णय लिया था। उन्होंने कहा कि हर हाल में डालमिया नगर में रेल कारखाने लगेंगे। मई माह में शिलान्यास की तैयारी की जा रही हैं। राइट्स के साथ समय-समय पर बैठक कर उसकी प्रगति की भी समीक्षा हो रही है। डालमियानगर में रेल वैगन मरम्मत कारखाना और उच्च क्षमता के माल डिब्बों के लिए बोगी व काप्लर निर्माण कारखाना के लिए इस वर्ष बजटीय प्रावधान भी किया गया है। गौरतलब है कि रेल कारखाना लगाने की जिम्मेवारी गत वर्ष 25 अगस्त को रेलवे ने राइट्स को दिया है । राइट्स ने अपना कार्य प्रारंभ कर दिया है । रेलवे द्वारा डालमियानगर में क्रय किए गए रोहतास इंडस्ट्रीज लिमिटेड की 219 एकड़ भूमि में रेल कारखाना स्थापित करने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गयी है। एक ओर रोहतास इंडस्ट्रीज के पुराने कबाड़ की दर का पुनर्निर्धारण कर 74 करोड़ रुपये कर दिया गया है और इसकी स्वीकृति उपरांत बिक्री की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। वहीं दूसरी ओर रेल वैगन मरम्मत कारखाना माल डब्बा निर्माण व कॉपलर के निर्माण कारखाना समेत उसी भूमि पर आवासीय परिसर के निर्माण करने का प्राकलन तैयार किया जा रहा है। रेलवे ने बंद पड़े रोहतास इंडस्ट्रीज को 2007-8 में क्रय किया था । 2009 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने उच्च क्षमता के माल डिपो के लिए बोगी और केपलर कारखाना लगाने के लिए शिलान्यास भी कर दिया था, लेकिन यूपीए-2 गवर्मेंट में इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया जिससे मामला ठप पड़ गया था । हिन्दुस्थान समाचार/उपेंद्र/प्रभात/शंकर /शंकर
image