Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 21:57 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

पीआरसी पर सुलग उठा अरुणाचल, भीड़ ने उप मुख्यमंत्री का आवास फूंका

By HindusthanSamachar | Publish Date: Feb 24 2019 3:55PM
पीआरसी पर सुलग उठा अरुणाचल, भीड़ ने उप मुख्यमंत्री का आवास फूंका
-राजधानी बंद के दौरान भारी हिंसा, 30 वाहन आग के हवाले, पुलिस को चलानी पड़ी गोली ईटानगर, 24 फरवरी (हि.स.)। गैर-अरुणाचलियों के स्थायी निवास प्रमाण पत्र (पीआरसी) के मुद्दे ने रविवार को उग्र रूप ले लिया। सोलह छात्र संगठनों के आह्वान पर राजधानी बंद के दौरान भारी हिंसा हुई। इस दौरान उपद्रवियों दोपहर 12ः30 बजे निती बिहार स्थित उप मुख्यमंत्री चोना मीन के निजी आवास को घेर लिया। इनमें से कुछ लोगों ने उप मुख्यमंत्री के घर को आग के हवाले कर दिया। इससे पहले पूर्वाह्न 10ः00 बजे हजारों लोगों टेनिस कोर्ट के पास एकत्र हुए। नारेबाजी करते हुए रैली निकाली। पीआरसी के मुद्दे पर गुरुवार से राजधानी में कानून व्यवस्था की स्थिति चरमराई हुई है। पीआरसी का विवाद सरकार के गले की फांस बन गया है। छात्र संगठनों के 48 घंटे के राजधानी बंद के दौरान व्यापक हिंसा हुई है। इस दौरान उपद्रवियों ने करीब तीन दर्जन वाहनों को फूंक दिया। शुक्रवार की रात को करीब 30 गाड़ियां जला दी गईं। उपद्रवियों को रोकने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। इससे भीड़ उग्र हो गई। पुलिस ने हवा में गोली में दागते हुए स्थिति को संभालने की कोशिश की। इस गोलीबारी में एक युवक की जान चली गई और एक युवक गंभीर रूप जख्मी हो गया। पुलिस गोलीबारी के बाद बंद की मियाद को 48 घंटे से बढ़ाकर 72 घंटे कर दिया गया। शनिवार सुबह स्थिति के सामान्य होने पर मुख्यमंत्री ने घोषणा की थी कि पीआरसी की रिपोर्ट को विधानसभा में पेश नहीं किया जाएगा। इसके बाद राजधानी में मरघट से भी गहरा सन्नाटा रहा। शुक्रवार को मारे गए युवक का शव शनिवार शाम परिजनों को सौंपने के बाद माहौल फिर खराब होने लगा। करीब 7ः30 बजे सैकड़ों लोग टेनिस कोर्ट पहुंच गये। यहां निर्णय किया गया कि अंतिम संस्कार मुख्यमंत्री आवास परिसर , उप मुख्यमंत्री आवास परिसर या विधानसभा परिसर में किया जाएगा। इसके बाद लोग घरों को चले गए। सरकार रातभर आंदोलनकारियों से निपटने की योजना बनाती रही। सवेरा हुआ तो हजारों लोग टेनिस कोर्ट पहुंच गए। सुबह 10ः00 बजे अचानक भीड़ उप मुख्यमंत्री चोना मीन के पुश्तैनी आवास पर पहुंच गई। नारेबाजी के बाद उनके आवास को फूंक दिया गया। शनिवार रात जिलाधिकारी कार्यालय में भी तोड़फोड़ की सूचना है। इसके बाद सेना को फ्लैग मार्च करना पड़ा। मगर देर शाम से रविवार सुबह तक लगभग एक दर्जन वाहनों को उपद्रवियोंं ने आग के हवाले कर दिया। इस बीच उपद्रवियों से निपटने के लिए अर्धसैनिक बल की सात कंपनी तैनात की गई हैं। राजधानी की फिजा में अशांति के बादल उमड़-घुमड़ रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/तागू/अरविंद/मुकुंद
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image