Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 21:35 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

नीपको अधिकारी को अरुणाचल सरकार ने किया तलब

By HindusthanSamachar | Publish Date: Feb 16 2019 11:12AM
नीपको अधिकारी को अरुणाचल सरकार ने किया तलब
इटानगर, 16 फरवरी (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश के लोवर सुवनसिरी जिला याजाली के रंगा नदी (पान्यर) पर बने नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पॉवर कॉरपोरेशन लिमिटेड (नीपको) के 405 मेगावाट रंगानादी पनबिजली परियोजना (आरएचईपी) की मरम्मत से नदी के निछले हिस्सों में मछलियों के मरने को लेकर लोगों में भारी नाराजगी व्याप्त है। इसको देखते हुए राज्य सरकार ने नीपको के मुख्य प्रबंध निदेशक (सीएमडी) को तलब किया है। शुक्रवार को पर्यावरण मंत्री नबाम रेबिया ने परियोजना के निचले हिस्सों के नदी का निरीक्षण करने के बाद परियोजना के प्रमुख पी बर्मन के साथ एक बैठक की और अगले एक सप्ताह के भीतर इस क्षेत्र का दौरा कर परिस्थिति का आंकलन कर जवाब देने को कहा है। साथ ही नदी के बहाव में क्यों बदलाव आया और नदी के पानी के बहाव में पारिस्थितिकी पर प्रभाव पड़ने आदि पर जवाब देने को कहा है। ज्ञात हो कि परियोजना की मरम्मत के लिए गत 09 फरवरी को इसे बंद कर दिया गया। नदी के पानी के बहाव में असमानता आने के बाद इसका प्रभाव जलीय जीवन पर बड़ी तेजी से हुआ है। पूरे बहाव क्षेत्र में नदी के किनारों पर मछलियों को भारी मात्रा में मृत अवस्था में पाई जा रही हैं। जबकि नदी पर निर्भर पालतू जानवर भी इलाके में नहीं जा रहे हैं। बैठक में नीपको अधिकारियों के पास मंत्री के सवालों का कोई जवाब नहीं था। अधिकारियों ने कहा कि इन तमाम बातों का अध्ययन किया जा रहा है। साथ ही इस बात की चिंता से उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया है। रेबिया ने कहा कि नीपको को अरुणाचल की सरकार और लोगों को समझाना होगा कि रखरखाव के लिए परियोजना को बंद करने से पहले आवश्यक उपाय क्यों नहीं किए गए। मंत्री ने नीपको अधिकारियों को जबाव देने के लिए एक सप्ताह का समय दिया है। हिन्दुस्थान समाचार /तागू / अरविंद/राधा रमण
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image